निर्ममता से मारी गईं बच्चियों में से एक दलित समाज की तो दूसरी अति पिछड़ी आरख जाति की गरीब मजदूर परिवार की थी, नाबालिग बच्चियों की हत्या के बाद उनके शवों को घटनास्थल से 300 मीटर से ज्यादा की दूरी पर जा 33 हजार वोल्ट के विद्युत आपूर्ति के टावर पर लटका दिया गया…

लखीमपुर खीरी से मुश्ताक अली अंसारी की रिपोर्ट

जनज्वार। लखीमपुर खीरी जनपद के पसगवां थाना क्षेत्र के जीरा बोझी गांव में दो मासूम बच्चियों जिनमें एक की उम्र 12 वर्ष और दूसरी की उम्र 13 वर्ष की थी, उनकी निर्ममता से कल 1 फरवरी को हत्या कर दी गई। इन दोनों बच्चियों में से एक दलित समाज की तो दूसरी अति पिछड़ी आरख जाति की गरीब मजदूर परिवार की थी। इन बच्चियों की हत्या के बाद उनके शवों को घटनास्थल से 300 मीटर से ज्यादा की दूरी पर जाकर 33 हजार वोल्ट के विद्युत आपूर्ति के टावर पर लटका दिया गया।

आशंका व्यक्त की जा रही है कि बलात्कार के बाद इन दोनों बच्चियों को निर्ममता से मार दिया गया। घटनास्थल पर खीरी की पुलिस अधीक्षक पूनम, कई थानों की फ़ोर्स, सीओ एवं अपर पुलिस अधीक्षक सहित भारी पुलिस बल पहुंचा। प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया ने मौके पर पहुंचकर पीड़ित परिवारों से मुलाकात की।

स्थानीय लोगों ने पुलिस अधीक्षक और संबंधित अधिकारियों से मुलाकात कर तत्काल अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग की और मीडिया के बीच अपना एवं समाजवादी पार्टी का पक्ष रखा। पीड़ित परिवारों को हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया। जिस गांव धौरहरा लोकसभा में यह जघन्य कांड हुआ, वह बीजेपी सांसद रेखा अरुण वर्मा के गांव से एक किलोमीटर की दूरी पर है, जहां बीजेपी सरकार में बेटी बचाओ की जगह बेटियों की हत्या और बलात्कार का अभियान चल रहा है।

घटना की सूचना पर घटनास्थल पर पहुंचे समाजवादी पार्टी के जिला अध्यक्ष कयूम खान और एमएलसी शशांक यादव प्रशासन से वार्ता की और अल्टीमेटम दिया कि तत्काल कार्यवाही नहीं होती है तो समाजवादी पार्टी सड़कों पर आंदोलन को बाध्य होगी।

उधर समाजवादी महिला सभा ने जिला मुख्यालय पर धरना प्रदर्शन कर ज्ञापन दिया। घटनास्थल के गांव जीरा बोझी में सपा नेता क्रांति कुमार सिंह समेत पूरा प्रशासनिक अमला मौजूद रहा। प्रशासन ने लड़कियों के परिजनों को आवासीय पट्टा दिया है, क्योंकि लड़कियों का परिवार अभी तक झोपड़ी में ही रहता था। पुलिस अधीक्षक पूनम ने  अपराधियों की जल्द गिरफ्तारी की घोषणा की।

समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने कहा कि भाजपा सरकार में बेटी बचाओ की जगह बेटियों की हत्या और बलात्कार का अभियान चल रहा है। नकारा पुलिस प्रशासन और सरकार पूरे लखीमपुर खीरी को बलात्कार के हब के रूप में तब्दील कर रही है।


जन पत्रकारिता को सहयोग दें / Support people journalism


Facebook Comment