Last Update On : 16 06 2018 10:04:24 AM

कहा बीवी ने साजिशन लगाया था बेटी के बलात्कार का झूठा आरोप मुझ पर, जमानत से छूटने के बाद भी नहीं घुसने दे रही थी घर में इसलिए किया कत्ल

गुवाहाटी। असम के डिब्रूगढ़ स्थित कोर्ट परिसर में कल 15 जून को दिन में तकरीबन 11 बजे एक आदमी ने सरेआम अपनी बीवी का धारदार हथियार से ताबड़तोड़ वार करते हुए कत्ल कर दिया। मौके पर ही महिला की मौत हो गई।

गौरतलब है कि हत्यारा पति पहले से अपनी बेटी के साथ बलात्कार मामले में आरोपी है। 9 नौ महीने पहले आरोपी पूर्णा नाहर डेका की पत्नी रीता नाहर डेका ने अपने पति के खिलाफ बेटी का बलात्कार करने की एफआईआर दर्ज करवाई थी। उसी मामले की सुनवाई के लिए पति—पत्नी दोनों कोर्ट में पहुंचे थे। उसी दौरान आरोपी अपना आपा खो बैठा और अपने साथ लाए धारदार हथियार से बीवी का कत्ल कर दिया।

पुलिस को दिए बयान में हत्यारे पति ने कहा कि मेरी पत्नी ने मुझ पर अपनी ही बेटी के साथ बलात्कार करने का झूठा आरोप लगाया था। मेरी जमानत होने के बावजूद वह मुझे घर में नहीं आने दे रही थी, इसलिए मैंने उसके एक के बाद एक गढ़े गए झूठों के लिए उसकी हत्या कर दी।

शुरुआती जांच के बाद पुलिस ने बताया कि बेटी के बलात्कार मामले में आरोपी और पत्नी की हत्या करने वाले शख्स का नाम पूर्णा नाहर डेका है। पुलिस में बयान दर्ज करते हुए उसने कहा कि, ‘मैं निर्दोष हूं, मैंने अपनी बेटी का बलात्कार नहीं किया था। मेरी बीवी ने मेरे खिलाफ झूठा केस दर्ज कराया था। बेटी के बलात्कार मामले में जब जमानत पर छूटकर मैं घर पहुंचा तो उसने मुझे मेरे ही घर में नहीं घुसने दिया, इसीलिए मैंने आपनी पत्नी रीता नाहर कत्ल कर दिया।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक पूर्णा नाहर डेका जब अपनी बीवी पर धारदार हथियार से ताबड़तोड़ वार कर रहा था तो उसकी आंखों में नफरत बरस रही थी, लग रहा था वह किसी इंसान नहीं बल्कि गाजर—मूली पर वार कर रहा है। बीवी के ​चीखने-चिल्लाने और लोगों के रोकने के बावजूद वह अपनी बीवी पर वार करता रहा और तब तक ताबड़तोड़ वार करता रहा जब तक संतुष्ट नहीं हो गया कि उसकी बीवी की मौत हो चुकी है।

आनन-फानन में पुलिस रीता नाहर को आसाम मेडिकल कॉलेज ले जाया गई, मगर तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।