जनता एक तरफ जहाँ भारी मन से अटल जी को श्रद्धांजलि देने को बेताब थी, वहीं बीजेपी की महिला जिलाध्यक्ष सहित तमाम जिम्मेदार पदाधिकारी हँसी मजाक कर मजा लेते दिखाई दे रहे थे….

फरीद आरजू

बलरामपुर, जनज्वार। भाजपा को शून्य से शिखर तक पहुंचाने वाले भारत रत्न और देश के पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत अटल बिहारी बाजपेई के निधन पर पूरा देश भले ही शोक में डूबा हो, लेकिन बीजेपी के कुछ नेता लगातार ऐसी हरकतें कर रहे हैं, जिससे पूरी बीजेपी को शर्मिंदा होना पड़ रहा है।

ताजा मामला बलरामपुर का है। अटल जी को राजनीतिक संजीवनी देने वाली कर्मभूमि बलरामपुर में जब अटल जी की अस्थि कलश यात्रा बलरामपुर चौराहे पर पहुँची तो कैबिनेट मंत्री सूर्य प्रताप शाही की मौजूदगी में श्रद्धांजलि देने वालों की भारी भीड़ मौजूद थी।

बलरामपुर की जनता एक तरफ जहाँ भारी मन से अटल जी को श्रद्धांजलि देने को बेताब थी, वहीं बीजेपी की महिला जिलाध्यक्ष सहित तमाम जिम्मेदार पदाधिकारी हँसी मजाक कर मजा लेते दिखाई दे रहे थे।

यही नहीं जिले के एक माननीय सहित अन्य कई अपनी लग्जरी गाड़ियों में बैठे-बैठे औपचारिकता निभा रहे थे। तस्वीरें और वीडियो देख आप खुद अंदाजा लगा सकते हैं कि अटल जी को ये कैसी श्रद्धाजंलि है।

गौरतलब है कि बलरामपुर स्वर्गीय अटल बिहारी बाजपेयी की राजनीतिक कर्मभूमि के तौर पर जाना जाता है। 1957 में पहली बार चुनाव जीतकर स्वर्गीय बाजपेयी देश की पार्लियामेंट में पहुचे थे। बाजपेयी बलरामपुर लोक सभा से दो बार सांसद रहे, जिसके चलते बाजपेयी की यादें बलरामपुर से जुड़ी हैं।