भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद ने कहा, वे प्रधानमंत्री मोदी को आसानी से जीतने नहीं देंगे। वह उन्हें हराने की हरसंभव कोशिश करेंगे…

जनज्वार। भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर रावण की बातों से लगता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ वे बनारस से लोकसभा चुनाव में उतरेंगे। बकौल चंद्रशेखर पहले तो वह बनारस से भीम आर्मी से किसी मजबूत कैंडिडेट को प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ मैदान में उतारेंगे और अगर कोई ऐसा नहीं मिला तो व​ह खुद वहां से चुनाव मैदान में उतरेंगे।

एनडीटीवी में प्रकाशित खबर के मुताबिक चंद्रशेखर आजाद ने कहा, वे प्रधानमंत्री मोदी को आसानी से जीतने नहीं देंगे। वह उन्हें हराने की हरसंभव कोशिश करेंगे।

गौरतलब है कि भीम आर्मी प्रमुख चन्द्रशेखर रावण को पुलिस ने कल मंगलवार, 12 मार्च को देवबंद में आचार संहिता उल्लंघन के आरोप में हिरासत में ले लिया था, जिसके बाद उनकी तबीयत काफी खराब हो गई थी। इसके बाद उन्हें इलाज के लिए मेरठ भेज दिया गया था।

चंद्रशेखर रावण की गिरफ्तारी के बाद सहारनपुर जिलाधिकारी ए.के पांडेय ने कहा कि भीम आर्मी प्रमुख अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ देवबंद क्षेत्र में जुलूस निकाल रहे थे। आचार संहिता लगने के बाद भी वह बिना अनुमति के यह कार्यक्रम कर रहे थे। प्रशासन ने उन्हें समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह नहीं माने। इसके बाद पुलिस ने उन्हें हिरासत में लेकर उपचार के लिए मेरठ के अस्पताल में भेजा दिया।

भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर समेत कई अन्य लोगों की गिरफ्तारी के बाद भीम आर्मी के सहारनपुर जिला प्रमुख कमल वालिया ने बताया, ‘हम लोग 15 मार्च को दिल्ली में होने वाले कांशीराम जयंती समारोह में चलने के लिए लोगों को आमंत्रित कर रहे थे। प्रशासन ने हमें इसकी अनुमति नहीं दी। शांतिपूर्ण तरीके से अपना कार्यक्रम कर रहे थे। पुलिस ने हमें गिरफ्तार कर लिया।’

गौरतलब है कि इससे पहले मेरठ में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने चंद्रशेखर रावण से मुलाकात की थी, जिससे कांग्रेस-भीम आर्मी में गठबंधन के कयास भी लगाए जाने लगे हैं। प्रियंका गांधी के साथ पश्चिमी उत्तर प्रदेश के प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया भी मौजूद थे।

प्रियंका गांधी के साथ अपनी मुलाकात पर चंद्रशेखर ने कहा कि प्रियंका गांधी ने उन्हें भाई कहकर उनका हालचाल पूछा तो मैंने कहा कि बहन मैं ठीक हूं। बकौल चंद्रशेखर प्रियंका गांधी ने उन्हें आश्वासन दिया कि आप अकेले लड़ रहे हैं सरकार के खिलाफ, हम आपके साथ हैं। हमारी पार्टी आपका समर्थन करेगी।

हालांकि चंद्रशेखर कहते हैं मैं किसी राजनीतिक दल का समर्थन नहीं चाहता हूं। मैं बहुजन समाज में जन्मा हूं, वहीं मरूंगा। मैं सिर्फ बहुजन समाज की राजनीति चाहता हूं। इस चुनाव में मेरा मकसद सिर्फ मोदी को हराना है। वह जहां से चुनाव लड़ेंगे मैं भी वहीं से मैदान में उतरूंगा।

इससे पहले भीम आर्मी प्रमुख का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा था जिसमें वो कह रहे हैं कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इशारे पर देवबंद में हमारी पदयात्रा रोकी गई थी। हमारे पास पदयात्रा की अनुमति थी, लेकिन प्रशासन और सरकार इस बात को लेकर झूठ फैला रहे हैं।

चंद्रशेखर रावण कहते हैं, ’15 मार्च को दिल्ली में बहुजन हुंकार रैली होगी, जिसमें बड़ी संख्या में लोग हिस्सेदारी करेंगे। चाहे जो कोई इसे रोकने का प्रयास करे, अब यह रुकेगा नहीं। लोकसभा चुनाव में मायावती को पूरा समर्थन दिया जाएगा।’


जन पत्रकारिता को सहयोग दें / Support people journalism


Facebook Comment