आतंकी मसूद अजहर को पाकिस्तान भेजने वाली भाजपा राहुल के ‘जी’ पर कर रही देशभक्ति का ड्रामा, आतंकी और गांधी जी के हत्यारे ‘गोडसे’ को पूजने वाली भाजपा मसूद ‘जी’ पर खेलना चाहती है वोट पॉलिटिक्स…

जनज्वार। भाजपा किसी भी हिंदू-मुस्लिम के मसले को सांप्रदायिक रंग देने में माहिर है, उसका ताजा उदाहरण है राहुल गांधी द्वारा पाकिस्तानी आतंकी को तंज में बोला गया मसूद अजहर ‘जी’ है।

यहां हालत उल्टा चोर कोतवाल को डांटे वाली है कि जिस भाजपा ने अपने शासनकाल में आतंकी मसूद अजहर को कूटनीतिक मजबूरियों के कारण पाकिस्तान पहुंचाया था, उस भाजपा के एक से एक तुर्रम खान नेता राहुल गांधी के तंज को देशद्रोह और आतंकप्रेम के बतौर प्रचारित कर रहे हैं।

गौरतलब है कि कल 11 मार्च को एक कार्यक्रम में बीजेपी सरकार की नाकामियों को गिनाते हुए राहुल गांधी ने तंज में कहा था कि ‘पुलवामा में बस में किसने बम फोड़ा? जैश-ए-मोहम्मद, मसूद अज़हर। आपको याद होगा कि 56 इंच की छाती वालों की जब पिछली सरकार थी तो एयरक्राफ़्ट में मसूद अज़हर ‘जी’ के साथ बैठकर जो आज नेशनल सिक्योरिटी एडवाइज़र हैं- अजित डोभाल, वो मसूद अज़हर को जाकर कंधार में हवाले करके आ गए।’ यहां उन्होंने तंज में मसूद के आगे जी लगाया था, जिसे भुनाने से भाजपा बाज नहीं आ रही।

केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता स्मृति ईरानी ने राहुल की आलोचना करते हुए ट्वीट किया, “राहुल गांधी और पाकिस्तान के बीच क्या सामान्य है? आतंकियों के लिए प्रेम।”

गौरतलब है कि राहुल ने कहा था, “पुलवामा में अगर बम ब्लास्ट हुआ, वो ज़रूर पाकिस्तान के लोगों ने, जैश-ए-मोहम्मद के लोगों ने करवाया होगा, मगर मसूद अज़हर को बीजेपी ने जेल से छोड़ा। कांग्रेस पार्टी के दो प्रधानमंत्री शहीद हुए हैं। हम किसी से नहीं डरते हैं।”

मगर हैरत की बात यह है कि ‘गोदी मीडिया’ ने भी सिर्फ उस हिस्से को सोशल मीडिया और टीवी चैनलों पर वायरल किया जिसमें वह मसूद के आगे कमेंट में जी लगा रहे हैं। इसी ‘जी’ को आम लोगों के बीच ले जाकर बीजेपी वोट बैंक की राजनीति साधना चाहती है।

गौरतलब है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट भी किया था,

राहुल गांधी पर हमला करते हुए केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ट्वीट किया था, ‘कमओन राहुल गांधी जी! पहले इस तरह की बातें दिग्विजय जी किया करते थे, जिन्होंने “ओसामा जी” और “हाफिज सईद साहब” कहा था। अब आप कह रहे हैं “मसूद अजहर जी”। क्या हो रहा है कांग्रेस पार्टी में?’

किसी आतंकी के पीछे व्यंग्यात्मक लहजे में लगाए गए ‘जी’ के लिए भाजपा जिस तरह से अपनी देशभक्ति का प्रचार कर रही है तो मैं याद दिलाना चाहूंगा कि ये वही भाजपा है जो गांधी के हत्यारों से लेकर दंगा, नरसंहार, हिंसा करने वालों को पूजती और अपना नेता बनाती है।

वीएन राय, रक्षा मामलों के विशेषज्ञ और पूर्व आईपीएस

हालांकि केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के हमले पर पलटवार करते हुए कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने भी उनका ‘जी’ याद दिलाते हुए एक वीडियो सोशल मीडिया पर डाला है, जिसमें रविशंकर प्रसाद मोस्ट वांटेड आतंकी हाफिज़ सईद को ‘हाफिज़ जी’ कह रहे हैं।

प्रियंका चतुर्वेदी ने ट्वीट किया है, ‘उम्मीद है इस वीडियो को बीजेपी की नई वेबसाइट में अच्छी जगह मिलेगी, जब वह (वेबसाइट) ठीक हो जाएगी। बीजेपी नेतृत्व और उनका हाफिज सईद से समर्थन। इसके अलावा उन्हें वो भी याद होगा जब उन्होंने वेद प्रकाश वैदिक को हाफिज से गले मिलने और बात करने भेजा था।’

प्रियंका ने इसके अलावा एक अन्य ट्वीट में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल की एक तस्वीर भी साझा की है, जिसमें वह जैश सरगना मसूद अजहर को छोड़ने जा रहे हैं। ये तस्वीर कंधार घटना के समय की है। गौरतलब है कि रविशंकर प्रसाद का ‘हाफिज जी’ वाला वीडियो पिछले साल जून का है, जिस दौरान उन्होंने कांग्रेस को घेरने के लिए की गई एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में हाफिज सईद को हाफिज जी कहा था।


जन पत्रकारिता को सहयोग दें / Support people journalism


Facebook Comment