Last Update On : 23 02 2018 12:18:00 PM

सोशल मीडिया पर टिप्पणियों का दौर जारी, कहा मस्जिद की पवित्रता का अपमान कर रही इन महिलाओं के खिलाफ हो कार्रवाई…

जनज्वार। इस्लाम धर्म का तीर्थ माना जाने वाला मक्का इन दिनों चर्चा में है, चर्चा का कारण है मक्का मस्जिद परिसर में ताश खेल रही चार महिलाएं। बुर्काधारी चार महिलाओं का ताश खेलता फोटो इंटरनेट पर वायरल हो रहा है।

इस्लाम के ठेकेदारों ने इसे लेकर तरह—तरह की टिप्पणियां भी करनी शुरू कर दी हैं। कोई कह रहा है कि यह इस्लाम का अपमान है तो कोई कह रहा है पवित्र मस्जिद इबादत की जगह होती है, खेल की नहीं। वो भी खासतौर पर महिलाओं के लिए। हो सकता है पहचान जाहिर होने पर शायद इस्लामिक धर्मगुरू इस पर कोई फतवा भी जारी कर दें। वैसे लोगों ने ताश खेल रही इन महिलाओं के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग शुरू कर दी है।

मक्का की पवित्र मस्जिद के खाना—ए—काबा परिसर में ताश खेलती इन महिलाओं की फोटो वायरल हो चुकी है और लोग तरह—तरह की टिप्पणी कर रहे हैं। सउदी दैनिक ओकाज लिखता है कि 19 फरवरी को रात तकरीबन 11 बजे किंग अब्दुल अजीज गेट के निकट पश्चिमी वर्ग में इन चार महिलाओं को ताश खेलते हुए देखा गया था।

हालांकि मस्जिद प्रशासन को जब मस्जिद परिसर में ताश खेले जाने की घटना का पता चला तो उसने महिलाओं से वहां से हट जाने का अनुरोध किया और महिलाएं वहां से हट भी गईं।

सोशल मीडिया पर यह खबर वायरल होने के बाद सऊदी अधिकारियों ने एक बयान जारी कर कहा कि “हमने महिला सुरक्षा अधिकारियों को वायरल हो रहा यह फोटो भेजते हुए कह दिया था कि महिलाओं को बताए कि ऐसी पवित्र जगहों पर ऐसी हरकतों को अंजाम न दें। और जब महिला अधिकारियों ने ताश खेल रही महिलाओं को इसके बारे में बताया तो वे तुरंत वहां से उठकर चली गई थीं।

एक अंग्रेजी वेबसाइट StepFeed ने अपनी वेबसाइट पर लिखा है कि “यह अरब दुनिया में प्रचलित है। यह फोटो हजारों रिएक्शन पाने में जरूर सफल रही है।’

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, 2015 की शुरुआत में सउदी अरब के ही मस्जिद-ए-नबावी के अंदर ताश खेल रहे युवाओं की एक तस्वीर इसी तरह वायरल हो गई थी। तब सुरक्षा अधिकारियों ने उन्हें इस हरकत के लिए गिरफ्तार किया था।