Last Update On : 10 08 2018 05:20:36 PM
फाइल फोटो

परिजनों ने उठाए स्कूल की सुरक्षा व्यवस्था पर उठाए सवाल, कहा जब स्कूलों के अंदर जाने से पहले महिलाओं को तक अपनी एंट्री रजिस्टर में करनी पड़ती है, तो एक आदमी ने स्कूल कैंपस में ही इस जघन्य कांड को कैसे दिया अंजाम…

दिल्ली, जनज्वार। मानसिक रूप से दिवालिये होते समाज की नृशंसता का एक और मामला सामने आया है। यह घटना घटी है राजधानी दिल्ली के एक सरकारी स्कूल में, जहां हैवानियत की हद पार करते हुए एक छह साल की बच्ची से स्कूल के अंदर बलात्कार किया गया। इस मामले में छात्रों के परिजनों ने स्कूल परिसर के आगे प्रदर्शन करते हुए सरकार की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल उठाए।

घटनाक्रम के मुताबिक बुधवार, 8 अगस्त को बच्ची के परिजनों को बलात्कार का पता तब चला जब उसकी योनि से खून रिसता दिखा। पूछने पर बच्ची ने मां—पिता को बताया कि लाल शर्ट वाले अंकल ने उसके साथ गलत काम किया था।

पुलिस ने अब इस मामले में आरोपी को अपनी गिरफ्त में ले लिया है। दिल्ली स्थित गोल मार्केट के पास के मंदिर मार्ग इलाके में एक सरकारी स्कूल में दूसरी कक्षा में पढ़ने वाली बच्ची का रेप करने वाला विकृत स्कूल का इलेक्ट्रीशियन था, जिसने स्कूल के कैंपस के अंदर ही बने पंप हाउस में बच्ची से दुष्कर्म किया।

मीडिया में आई खबरों के मुताबिक आरोपी इलेक्ट्रीशियन स्कूल की छुट्टी होने के बाद बच्ची को बहला—फुसलाकर अपने साथ स्कूल परिसर में ही बने पंप हाउस में ले गया और वहां जाकर उसके साथ बलात्कार किया। आरोपी इलेक्ट्रिशियन राम आसरे को पुलिस ने घटना के दूसरे दिन 9 अगस्त को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस ने शुरुआती जांच के बाद बताया कि 6 साल की पीड़ित बच्ची गोल मार्केट के मंदिर मार्ग स्थित एनपी बंगाली गर्ल्स स्कूल में दूसरी कक्षा में पढ़ती है। बच्ची का बलात्कार करने के बाद आरोपी इलेक्ट्रीशियन ने बच्ची को छोड़ दिया और बच्ची कैब से अपने घर पहुंची।

पुलिस के मुताबिक घर पहुंचकर भी उसने किसी को कुछ नहीं बताया, लेकिन रात में जब उसकी योनि से ब्लीडिंग होने लगी, यह देखकर परिजन परेशान हो गए। तब बच्ची ने बताया कि लाल शर्ट वाले अंकल ने उसके साथ गलत ​काम किया था।

बच्ची की तबीयत ज्यादा बिगड़ने पर मां—बाप अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टर ने उसके साथ हुए बलात्कार की पुष्टि की।

दिल्ली-एनसीआर में एक महीने के अंदर स्कूल में बच्चियों के साथ हैवानियत की यह दूसरी घटना है। इससे पहले ग्रेटर नोएडा के डीपीएस स्कूल में नर्सरी की बच्ची के साथ स्वीमिंग कोच द्वारा दुष्कर्म किए जाने का मामला सामने आया था।

इस घटना के बाद अन्य बच्चों के माता-पिता ने स्कूल के बाहर भारी विरोध—प्रदर्शन किया। विरोध दर्ज करते हुए परिजन कह रहे हैं कि जब स्कूलों के अंदर जाने से पहले महिलाओं को तक अपनी एंट्री रजिस्टर में करनी पड़ती है, तो एक आदमी ने स्कूल कैंपस में ही इतनी घिनौनी हरकत कैसे की।