उत्तर प्रदेश के रायबरेली में हुआ भयानक ट्रेन हादसा, न्यू फरक्का एक्सप्रेस की 8 बोगियां पटरी से उतरीं, तकरीबन दर्जनभर की मौत और सैकड़ों के घायल होने की खबर

जनज्वार। उत्तर प्रदेश के रायबरेली स्थित हरचंदपुर रेलवे स्टेशन के पास ट्रेन संख्या 14003, न्यू फरक्का एक्सप्रेस ट्रेन आज 10 अक्टूबर की सुबह तड़के बुरी तरह दुर्घटनाग्रस्त हो गई, जिसमें अब तक लगभग 12 लोगों की मौत की खबर आ रही है। हालांकि मीडिया में यह संख्या अभी तक कम बताई जा रही है, मगर प्रत्यक्षदर्शियों और घटनास्थल पर मौजूद लोगों के मुताबिक यह संख्या दर्जनभर से भी कहीं ज्यादा होने की संभावना है।

दुर्घटना की जानकारी के बाद रेल मंत्री पीयूष गोयल ने हादसे की जांच के आदेश देकर घायलों को तुरंत उपचार मुहैया कराने को कहा है। प्रदेश के सहायक महानिदेशक कानून व्यवस्था आनंद कुमार ने मीडिया को बताया कि घायलों को हरचंदपुर पीएचसी में भर्ती कराया गया है। जहां अभी तक लगभग 12 लोगों के मरने की सूचना है, जबकि दर्जनभर से ज्यादा की हालत क्रिटिकल बनी हुई है।

सहायक महानिदेशक कानून व्यवस्था आनंद कुमार के मुताबिक दुर्घटना में किसी आतंकी साजिश के पहलू से छानबीन के लिए एटीएस की टीम भी मौके पर पहुंची। ट्रेन में सुरक्षित बचे यात्रियों को रेलवे द्वारा लखनऊ भेजा जा रहा है, जहां से उन्हें विशेष ट्रेन से दिल्ली भेजा जाएगा।

दुर्घटना की भीषणता को देखते हुए जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक, क्षेत्रीधिकारी, उपसंभागीय मजिस्ट्रेट सहित तमाम उच्च अधिकारी मौके पर पहुंचे और यात्रियों को आश्वासन दिया जा रहा है कि उन्हें राहत एवं बचाव कार्यों में कोई कोताही नहीं बरती जाएगी।

रायबरेली में हुए ट्रेन हादसे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा कि “रेल हादसे में जानी नुकसान पर दुःखी हूं। मेरी संवेदनाएं पीड़ित परिवारों के साथ हैं, तथा घायलों के जल्द स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं। उत्तर प्रदेश सरकार, रेलवे तथा NDRF घटनास्थल पर सभी संभव सहायता सुनिश्चित कर रही हैं।’

जो बोगियां पटरी से उतरीं उनमें S-6, S-7, S-8, S-9, S-10 और S-11 शामिल हैं। दुर्घटना के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुर्घटना में मारे गए लोगों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये तथा गंभीर रूप से घायल लोगों को 50,000 रुपये मुआवज़ा देने की घोषणा की है।

वहीं केंद्रीय रेलमंत्री पीयूष गोयल ने रायबरेली में ट्रेन के पटरी से उतरे जाने की घटना में मारे गए लोगों के परिजनों को 5-5 लाख, गंभीर रूप से घायलों को एक-एक लाख रुपये तथा साधारण घायलों को 50,000 रुपये का मुआवज़ा देने का ऐलान किया है।