Last Update On : 29 12 2017 06:23:00 PM

अगर घटना के वक्त बस में यात्री सवार होते तो न जाने कितने लोगों काल के गाल में समा चुके होते….

चैन्नई। कल रात को जहां मुंबई के एक रेस्टोरेंट में आग लगने से दर्जनों लोग काल के गाल में समा गए, वहीं आज दिन में चेन्नई एयरपोर्ट पर एक अनहोनी होते—होते बच गई। अगर दुर्घटना के वक्त यात्री घटनास्थल पर होते तो न जाने कितने लोगों का जीवन संकट में पड़ जाता।

घटनाक्रम के मुताबिक चैन्नई में इंडिगो एयरलाइंस की यात्री बस में एकाएक आग लग गई। आग लगने से बस में भयंकर आग लग गई। शुरुआत में लगा कि इससे भारी जानमाल की क्षति हुई होगी। मगर यह संयोग ही था कि जब बस में आग लगी तब बस यात्रियों को उतारकर एयरपोर्ट टर्मिनल पर वापस लौट रही थी।

इस दुर्घटना में सबसे बड़ी राहत की बात यह रही कि जब आग लगी तब बस में कोई यात्री सवार नहीं था। अगर यह हादसा कुछ मिनट पहले हो जाता तो न जाने कितने लोग आग के साथ खाक हो जाता।

हालांकि इस घटना को निजी विमानन कंपनी इंडिगो की लापरवाही के बतौर देखा जा रहा है, क्योंकि अभी कुछ दिन पहले ही ठीक उड़ान से पहले एक विमान में ईंधन रिसाव की घटना सामने आ चुकी है।

जब यह घटना घटी उसके तुरंत बाद एयरपोर्ट पर मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने दमकल गाड़ी को सूचित किया गया। बस के आसपास खड़े विमानों को वहां से रवाना किया गया, जिसके बाद बड़ी मुश्किल से आग पर काबू पाया गया।

हालांकि इस घटना के थोड़ी देर बाद सामान्य व्यवस्था बहाल कर दी गई, मगर अभी तक बस में आग लगने की वजहों का खुलासा नहीं हो पाया है।

भले ही इंडिगो एयरलाइंस द्वारा जांच के नाम पर अब तमाम तरह की लीपापोती की जाए, मगर किसी गलती की वजह से एक भयानक हादसा होते—होते रह गया। अगर घटना के वक्त बस में यात्री सवार होते तो न जाने कितने लोगों का जीवन संकट में पड़ जाता।