Last Update On : 12 03 2018 09:36:00 AM

वीडियो आया सामने, प्रत्याशी उपेंद्र शुक्ला और उनके समर्थक आईपीएस चारू निगम को साफ दिख रहे धमकाते हुए

उत्तर प्रदेश में हो रहे उपचुनाव में जीत के लिए भाजपा इतना एड़ी—चोटी का जोर लगा रही है कि नियमों के विरूद्ध उसके प्रत्याशी उपेंद्र दत्त शुक्ला न केवल वोटिंग करवाने पर तुले रहे बल्कि बूथ पर मौजूद महिला आईपीएस अधिकारी को धमकाते रहे…

गोरखपुर। गोरखपुर में कलन लोकसभा उपचुनाव संपन्न हो गया, परंतु इस चुनाव में शांतिपूर्ण मतदान होते हुए भी एक विवाद सामने आया। सोशल मीडिया पर आ रहे एक वीडियो के मुताबिक भारतीय जनता पार्टी लोकसभा प्रत्याशी उपेंद्र दत्त शुक्ला व तेजतर्रार महिला आईपीएस एसपी चारू निगम के बीच तीखी बहस हुई।

मामला टेकवार,धदौना बूथ सहजनवा का है। प्रशासन का कहना है कि शाम 5:00 बज चुके थे और बूथ पर जितने भी मतदाता मौजूद थे उनको मतदान करा कर लगभग 5.10 पर अनावश्यक लोगो को वहाँ से हटा दिया गया। उसी समय भाजपा प्रत्याशी उपेंद्र दत्त शुक्ल आक्रोशित और गुस्से की हालत में वहां पहुंचे और समय बीत जाने के बाद वोटिंग कराने के लिए आईपीएस पर दबाव डालने लगे। इसी बात को लेकर एसपी चारु निगम और भाजपा प्रत्याशी के बीच बहस हो गयी।

उपेंद्र दत्त शुक्ला वीडियो में आईपीएस से बोलते नजर आ रहे हैं कि आप हमारे 350 मतों को मत करने से रोक रही है और हमारा नुकसान कर रही हैं। इस पर चारू निगम ने कहा कि मैंने आपका किस प्रकार से नुकसान कर दिया, इसी बीच ईवीएम की खराबी की भी बात उठी तो चारु निगम ने कहा कि ईवीएम की खराबी में दोष हमारा नहीं है। हमारा काम लॉ एंड आर्डर को मेंटेन करना है।

बातचीत में किसी बात को लेकर एसपी चारू निगम के गनर ने भी शुक्ला जी को समझाने का प्रयत्न किया, जिसको लेकर उपेंद्र दत्त शुक्ला आक्रोशित हो गए और एसपी चारू निगम से उनकी तीखी बहस हो गई।

आईपीएस चारु निगम ने बोला कि आप सेक्टर मजिस्ट्रेट से बात करें, अगर वो बोल देंगे तो हम मतदान करवा देंगे, जिस पर सेक्टर मजिस्ट्रेट ने बोला कि समय ज्यादा हो गया है और हमने समय तक सभी का वोटिंग करने दी है। अब मशीन पर क्लोज का बटन दब चुका है अब कुछ नहीं हो सकता।

इस बात पर भाजपा प्रत्याशी शुक्ला काफी नाराज होते हुए तैश में आकर बोलने लगे नियोजित तरीके से सेक्टर मजिस्ट्रेट और आईपीएस चारू निगम ने मेरा नुकसान किया है।

‘न्यूज ग्राउंड’ में प्रकाशित एक खबर और शेयर किए गए वीडियो के मुताबिक इस मतदाता केंद्र पर कुछ गड़बड़ी की सूचना किसी के द्वारा उच्चाधिकारियों को दी गयी थी, जिसमे ला एंड आर्डर मेन्टेन करने के लिए और शांतिपूर्ण मतदान करवाने के लिए उच्च अधिकारियों द्वारा आईपीएस चारु निगम को इस मतदाता केंद्र पर भेजा गया था। यही भाजपा प्रत्याशी को रास नहीं आया और उन्होंने खुलेआम आईपीएस को धमकाने की कोशिश की।

देखें वीडियो कैसे धमका रहे हैं आईपीएस को भाजपा नेता :