Last Update On : 11 05 2018 01:06:00 PM

जिस्मफरोशी के धंधे को बंद करवाने के लिए मोहल्ले के लोग पुलिस के उच्च अधिकारियों तक से शिकायत कर चुके हैं, जिस पर पुलिस ने छापेमारी करने का कोरम भी पूरा किया, मगर धंधा निरंतर चलता रहा…

सोनीपत, जनज्वार। सोनीपत में पिछले 2 साल से मोहल्ला कला में चल रहे जिस्मफरोशी के धंधे के विरोध में कल 10 मई को मोहल्ला कला की दर्जनों महिलाओं ने संगठित होकर जन कमेटी का गठन किया। इसके और पूरे मोहल्ले में हर एक घर में एक लाठी दी गई तथा मोहल्ले में एक सायरन लगाया गया, जो कि जैसे ही मोहल्ले में असामाजिक तत्व आएंगे उस समय सायरन बजा दिया जाएगा।

सायरन की आवाज सुनकर सभी मोहल्ले की महिलाएं लाठी हाथ में लेकर बाहर आएंगी और असामाजिक तत्वों का डटकर मुकाबला करेंगी। महिलाओं के मुताबिक ऐसा करके वे अपनी बेटियों की व अपनी सुरक्षा स्वयं करेंगी। सभी महिलाओं ने एक सुर में संकल्प लिया कि अब मोहल्ले में असामाजिक तत्वों को नहीं घुसने दिया जाएगा। यदि मोहल्ले में असामाजिक तत्व घुसे तो उनका स्वागत लाठियों से होगा।

इस दौरान सभी महिलाओं ने लाठियां हाथ में लेकर खूब नारेबाजी की और कहा कि जिस्मफरोशी के धंधे को किसी भी सूरत में नहीं चलने दिया जाएगा।

जन कमेटी में शामिल महिलाओं ने बताया कि कई बार यहां चल रहे जिस्मफरोशी के धंधे के बाबत मोहल्ले के लोग पुलिस के उच्च अधिकारियों तक से शिकायत कर चुके हैं, जिस पर पुलिस ने छापेमारी करने का कोरम भी पूरा किया, मगर जिस्मफरोशी का धंधा बंद नहीं हुआ।

बल्कि यहां जिस्मफरोशी का धंधा दिनोंदिन बढ़ता और निरन्तर चलता आ रहा है। इसके चलते बहन—बेटियों का घर से निकलता मुश्किल हो गया है। महिलाएं कहती हैं हमने मजबूरत यह सख्त कदम उठाया है ताकि हमारी बहू—बेटियां सुरक्षित रह सकें।

जन कमेटी गठन के वक्त मौके पर पहुंचे पूर्व नगर पार्षद विमल किशोर ने कहा कि ऐसी जन कमेटियां हर मोहल्ले में होनी चाहिए, जो अन्याय के खिलाफ व असामाजिक तत्वों के खिलाफ डटकर मुकाबला करें।

इस मौके पर पूर्व नगर पार्षद विमल किशोर, गीता, ज्योति, आशा, कविता, किरण, सोनिया, कांता, मीनू, कीर्ति, लक्ष्मी, रितु, उमा, मनीषा, सुरेन्द्र बत्रा, राजकुमार, सोनू बत्रा, विरेन्द्र, महेन्द्र कुमार, जोगिन्द्र कुमार, सुरेन्द्र, धर्मबीर, सोनू बत्रा, सुमित समेत सैकड़ों लोग मौजूद थे।