Last Update On :

शुरुआती जांच में आया सामने पत्रकार अंजनी मौर्य का था जमीन को लेकर कुछ लोगों से विवाद

बलरामपुर से फरीद आरजू

योगीराज में फिर एक पत्रकार की हत्या हो गई है। इससे पहले भी पत्रकारों की हत्याओं का मामला मीडिया में छाया रहा है। मौजूदा मामला बलरामपुर जिले के उतरौला क्षेत्र का है, जहां एक पत्रकार का खून से लथपथ शव मिलने से क्षेत्र मे सनसनी फैल गयी।

मामले की जांच कर रहे पुलिस अधीक्षक प्रमोद कुमार ने शुरुआती जांच के बाद बताया कि एक राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र के स्थानीय पत्रकार 35 वर्षीय अंजनी मौर्य 22 फरवरी की शाम को मोटरसाइकिल से अपने घर से निकले थे, मगर देर रात तक घर नहीं लौटे। 23 फरवरी की सुबह उनका खून से लथपथ शव उतरौला कोतवाली के हरनीडीह इलाके के पास सड़क किनारे पाया गया।

पुलिस ने शुरुआती जांच के बाद बताया कि पत्रकार मौर्य का जमीन को लेकर कुछ लोगों से विवाद था। बहरहाल, शव को पोस्टमार्टम के लिये भेजकर मामले की जांच की जा रही है।

पत्रकार अंजनी मौर्य की मौत पर स्थानीय पत्रकारों ने गहरा दु:ख व्यक्त किया।