Last Update On : 04 11 2017 12:03:00 AM

देश में सच बोलने पर बढ़ती मुकदमेबाजी का एक और उदाहरण सामने आया है और अब चर्चित फिल्म अभिनेता कमल हसन के खिलाफ हिंदू भावनाएं आहत करने के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की बात सामने आ रही है…

जनज्वार, दिल्ली। कई धमाकों में हिंदू धर्म से ताल्लुक रखने वाले आतंकी पकड़े जाने के बावजूद आज वाराणसी में फिल्म अभिनेता कमल हसन के खिलाफ मुकदमा दर्ज हो गया क्योंकि उन्होंने कहा था कि हिंदू संगठन हिंदू आतंकवाद से इनकार नहीं कर सकते।

वहीं अखिल भारतीय हिंदू महासभा के उपाध्यक्ष पंडित अशोक शर्मा का कहना है कि कमल हसन और उन जैसों को सबक सिखाने के लिए जरूरी है कि गोली मार दिया जाए या फिर फांसी पर लटका दिया जाए। शर्मा की राय में किसी ऐसे आदमी को भारतभूमि पर रहने का अधिकार नहीं है जो हिंदू समुदाय के खिलाफ गालीगलौच करता है।

गौरतलब है कि 2 नवंबर को एक तमिल पत्रिका में छपे अपने लेख में कमल हसन ने कहा था कि हिंदूवादी तत्व इससे इनकार नहीं कर सकते कि आतंकवाद में हिंदू आतंकवादी नहीं हैं।

कांग्रेस नेता दिनेश गुंडुराव ने कमल हसन के समर्थन में बोलते हुए कहा है कि हिंदू आतंकवाद इस देश की सचाई है। गुंडुराव ने आतंकवाद की परिभाषा को व्यापक करते हुए कहा कि जो लोग भी जनता को आतंकित करते हैं, चाहें वह गौ गुंडे ही क्यों न हों, वे आतंकवादी हैं।

गुंडुराव के मुताबिक कमल हसन सच कहा है, जिसे हिंदूवादी संगठन बर्दाश्त नहीं कर पा रहे हैं।