मेनका ने कहा, मैं यहां से जीत रही हूं, मगर मेरी जीत मु​स्लिमों के बिना होगी तो मुझे बहुत अच्छा नहीं लगेगा। फिर जब मुसलमान मेरे पास काम के लिए आता है तो मैं सोचती हूं रहने ही दो। आखिर नौकरी सौदेबाजी भी तो होती है। ये नहीं कि हम सब महात्मा गांधी की छठी औलाद हैं कि देते ही जाएंगे और इलेक्शन में मार खाते जाएंगे…

जनज्वार। भाजपा नेता आए दिन अपने बिगड़े बोलों और कुछ भी कह जाने के लिए चर्चित होते जा रहे हैं। इस कड़ी में एक नया नाम अब मोदी कैबिनेट में मंत्री मेनका गांधी जोकि सुल्तानपुर से चुनावी मैदान में हैं, उनका जुड़ गया है।

मेनका गांधी का सुल्तानपुर में चुनावी सभा के दौरान बोला गया एक वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में मेनका कहती सुनाई दे रही हैं कि अगर मुस्लिम मुझे वोट नहीं देंगे तो उनके लिए मुश्किल होगा।

वह खुलेआम इसमें मुस्लिमों से कह रही हैं कि अगर तुम मुझे वोट नहीं दोगे तो तुम्हारे लिए काम करना मुश्किल होगा। वह वीडियो में कहती सुनाई दे रही हैं, ‘मैं यहां से जीत रही हूं, मगर मेरी जीत मु​स्लिमों के बिना होगी तो मुझे बहुत अच्छा नहीं लगेगा। फिर दिल खट्टा हो जाएगा। फिर जब मुसलमान मेरे पास काम के लिए आता है तो मैं सोचती हूं रहने ही दो, क्या फर्क पड़ता है। आखिर नौकरी सौदेबाजी भी तो होती है। ये नहीं कि हम सब महात्मा गांधी की छठी औलाद हैं कि देते ही जाएंगे देते ही जाएंगे और इलेक्शन में मार खाते जाएंगे।’

मेनका गांधी का बयान सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद जिला प्रशासन की ओर से उन्हें नोटिस जारी किया गया है।

मेनका ने अप्रत्यक्ष रूप से मुस्लिमों को धमकी दे दी है कि अगर मुझे मुस्लिम मत नहीं पड़े तो अंजाम भुगतने को तैयार रहना। वो खुलेआम कह रही हैं कि मेरी जीत सुनिश्चित है, अब आप लोगों को मेरी जरूरत पड़ेगी। अपनी जरूरत के लिए अब आप लोगों को नींव डालनी है तो ये वक्त है। आपके पोलिंग बूथ के रिजल्ट में मुझे 100 या 50 वोट निकलेंगे तो जब आप काम के लिए मेरे पास आएंगे तो वही होगा आपके साथ। समझ गए होंगे आप लोग कि मैं क्या कहना चाहती हूं।’

मेनका गांधी के चुनावी सभा में खुलेआम मुस्लिमों को धमकाने वाला यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसके खिलाफ कई बड़ी ​हस्तियां मैदान में उतर चुकी हैं। हमेशा अपने विवादित बयानों के लिए ​चर्चित रहने वाले अभिनेता कमाल आर खान ने सोशल मीडिया पर टिप्पणी की है, ‘चुनाव आयोग क्या कर रहा है? वोट पाने के लिए वोटरों को इस तरह धमकाना क्या सही है? यह डेमोक्रेसी है या गुंडागर्दी? हिंदू, मुस्लिम, सिख और ईसाई किसी को भी इस तरह के नेताओं को वोट नहीं देना चाहिए। प्लीज, इस तरह के भ्रष्ट नेताओं से डरना बंद करें।’

गौरतलब है कि फिलहाल मेनका गांधी पीलीभीत से बीजेपी सांसद हैं, और उन्होंने 10 दिन पहले सुल्तानपुर सीट से चुनाव प्रचार शुरू किया था। इस चुनाव में उन्होंने अपने पुत्र वरुण गांधी की जीत सुनिश्चित करने के लिए पीलीभीत से उन्हें चुनाव मैदान में उन्हें उतारा है और सुल्तानपुर से खुद लड़ रही हैं। पीलीभीत से छह बार सांसद रह चुकी मेनका गांधी का मुस्लिमों को धमकाने वाला यह वीडियो लगातार सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

मेनका गांधी के विवादित बयान पर कांग्रेसनेता संजय झा ने ट्वीट किया, ‘वाह, मैंने अभी-अभी सुना कि मेनका गांधी ने मुस्लिमों से बात करते हुए बेहद हैरान करने वाली बात कही, ‘मेरे पास बूथ के हिसाब से सारी डिटेल है, आपको मेरी ज़रूरत पड़ेगी।’ बीजेपी को हराना हमारी ज़िम्मेदारी है। वे वोट के लिए हमारे साथी भारतीयों को डरा रहे हैं। चुनाव आयोग इस पर जल्द से जल्द कदम उठाए।’


जन पत्रकारिता को सहयोग दें / Support people journalism


Facebook Comment