Last Update On : 09 08 2018 12:37:23 PM

अपराधबोध से मुक्ति पाने के लिए कुछ अखबारों और चैनलों के आॅनलाइन में छापी है खबर, मगर चैनलों और अखबारों में खबर रही नदारद

देखिए पूरी प्रेस कांफ्रेंस का वीडियो कि क्या कहा राफेल डील पर प्रशांत भूषण, अरुण शौरी और यशवंत सिन्हा ने, और यह समझने की कोशिश करिए कि मोदी की मीडिया क्यों डरती है प्रशांत भूषण को लिखने—दिखाने से

न एयरफोर्स को पता, न किसी मंत्री को पता कि आखिर क्यों​ 126 राफेल डील को रद्द कर केवल 36 किया गया। क्या यह सौदा अंबानी के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने सीधे किया है। जो 126 राफेल युद्ध विमान 90 हजार करोड़ में भारत सरकार खरीद रही थी, उसे आखिर किसके लाभ के लिए 36 कर दिया गया है। एक राफेल जो 600 करोड़ में खरीदा जा रहा था, वही अब क्या 1750 करोड़ में सिर्फ इसलिए खरीदा जा रहा है कि अंबानी को फायदा हो।