Last Update On : 05 11 2017 04:17:00 PM

बीजेपी आईटी सेल प्रभारी की शिकायत पर आनन फानन में की गई थी वरिष्ठ पत्रकार विनोद वर्मा की गिरफ्तारी…

रायपुर से संजय ठाकुर की रिपोर्ट

छत्तीसगढ़ के मंत्री की कथित सेक्स सीडी के जिस मामले ने देशभर में हड़कंप मचा दिया था, उस मामले का सबसे अहम किरदार अब सामने आ गया है।

दरअसल बीजेपी आईटी सेल प्रभारी प्रकाश बजाज की शिकायत पर ही आनन फानन में वरिष्ठ पत्रकार विनोद वर्मा की गिरफ्तारी हुई थी। प्रकाश बजाज ही वो शख्स हैं, जिनके पास ब्लैकमेलिंग का फ़ोन आया था और फ़ोन करने वाले ने कहा था कि तुम्हारे आका की सेक्स सीडी हमारे पास है। इसके बाद बजाज ने पंडरी थाने में इसकी शिकायत दर्ज की थी।

बजाज की इस शिकायत पर पत्रकार विनोद वर्मा की तो गिरफ्तारी हो गयी, लेकिन इसके बाद से ही प्रकाश बजाज गायब थे। घटना के पूरे 9 दिनों बाद प्रकाश बजाज अब सामने आए हैं, लेकिन बजाज का कहना है कि वो गायब नहीं हुए थे, बल्कि अपने घर पर ही थे और अपने रोजमर्रा के कामों में लगे हुए थे।

बजाज पत्रकारों के सवालों का जवाब बड़े ही सधे हुए शब्दों में देते दिखे। ब्लैकमेलिंग के लिए आये कॉल में किस आका की बात हो रही थी, इस सवाल पर बजाज ने कहा कि पूरी पार्टी का हाथ उनके सर पर है।

हालांकि मंत्री राजेश मूणत से उनकी नजदीकियां जगजाहिर हैं। बजाज ने इसके अलावा किसी भी सवाल पर सीबीआई जांच का हवाला देते हुए कुछ भी कहने से इनकार कर दिया।

देखें वीडियो :