Last Update On : 24 08 2018 10:49:31 PM
यह पूछने पर कि बच्चा क्यों मर गया, कैसे मर तो यह हाल कर दिया डॉक्टर के गुंडों ने मृत बच्चे के परिजनों का

परिजनों ने डॉक्टर पर लापरवाही की बात कही तब क्लिनिक में मौजूद करीब तीन-चार दर्जन की संख्या में डॉक्टर के गुंडों ने मृत बच्चे के परिजनों पर हमला कर दिया और लाठी-डंडे से सबकी पिटाई करने लगे…

सीवान से धनु यादव की रिपोर्ट

सीवान में एकबार फिर एक निजी डॉक्टर की गुंडागर्दी सामने आई है। घटना अस्पताल रोड स्थित नवजात एवं शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. दिनेश कुमार सिंह के क्लिनिक की है, जहां भर्ती एक सात साल के बच्चे की गलत इंजेक्शन देने से हुई मौत के बाद डॉक्टर के आदमियों ने मृत बच्चे के परिजनों की जमकर पिटाई कर दी। डॉक्टर के गुंडों के हमले में जहां चार लोग बुरी तरह से घायल हो गए, वहीं एक व्यक्ति लापता भी हो गया।

मिली जानकारी के अनुसार, रसूलपुर निवासी अवधेश शर्मा के सात वर्षीय पुत्र आर्यन कुमार को तबियत खराब होने पर डॉ. दिनेश कुमार सिंह की क्लिनिक में भर्ती किया गया था, जहां आज शुक्रवार 24 नवंबर को डॉक्टर ने आर्यन को एक इंजेक्शन दिया। इंजेक्शन देने के तुरंत बाद छटपटाते हुए आर्यन की मृत्यु हो गयी।

जब मृत बच्चे को लेकर परिजन डॉक्टर के पास पहुंचे और उसकी मौत की वजह जानने की कोशिश की तो डॉक्टर ने सभी को वहां से घर जाने के लिए कहा।

वहीं परिजनों ने डॉक्टर की लापरवाही से बच्चे की मौत होने की बात कही, तो क्लिनिक में मौजूद करीब तीन-चार दर्जन की संख्या में डॉक्टर के गुंडों ने मृत बच्चे के परिजनों पर हमला कर दिया और लाठी-डंडे से सबकी पिटाई करने लगे। हमले में किसी का सिर फट गया तो किसी का हाथ टूट गया। वहीं परिजनों ने से एक रहस्यमय तरीके से लापता हो गया।

उधर, घटना की खबर मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने डॉक्टर के गुंडों के हमले में घायल हुए मृत बच्चे के परिजनों को सीवान सदर अस्पताल ले जाकर भर्ती कराया। डॉक्टर पक्ष का कहना है कि लोगों ने उनकी क्लिनिक में तोड़फोड़ और हंगामा किया था। फिलहाल, पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुटी है। बता दें कि एक महीने के अंदर सीवान में निजी क्लीनिकों में डॉक्टर के आदमियों द्वारा गुंडागर्दी किये जाने की यह पांचवी घटना है।