Last Update On : 01 12 2017 05:00:00 PM

विकलांगों को प्रोत्साहित देने वाला ऐसा कार्यक्रम वर्ष 2012-13 के बाद अब आयोजित किया जा रहा है….

हल्द्वानी से हरीश रावत की रिपोर्ट

दिव्यांगों को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से उत्तराखण्ड सरकार के समाज कल्याण विभाग द्वारा आगामी 3 दिसंबर को विश्व दिव्यांग दिवस का आयोजन किया जा रहा है।

इस मौके पर विभाग की ओर से राज्यभर के 30 दिव्यांगों को पुरस्कृत किया जाएगा। कार्यक्रम का आयोजन खालसा नेशनल बालिका इंटर कालेज, हल्द्वानी में किया जाएगा। समाज कल्याण के निदेशक मेजर योगेंद्र यादव ने यह जानकारी देते हुए बताया कि विभाग के पास इस पुरस्कार को लेकर 30 आवेदन आये थे, जिसमें नैनीताल व देहरादून से 7-7, उधमसिंह नगर से 8, चमोली, अल्मोड़ा व पौड़ी से 1-1, बागेश्वर से 3, हरिद्वार से 2 विकलांगों के आयोजन थे।

आवेदनों की जिला स्तरीय कमेटी से जांच तथा जिलाधिकारी की संस्तुति में बाद इन्हें शासन को भेज दिया गया। राज्य स्तरीय कमेटी ने स्कैनिंग के बाद आयोजकों का चयन किया है।

निदेशक ने बताया कि पृस्कृत होने वाले दिव्यांगों को सम्मान स्वरूप प्रमाणपत्र, मैडल और 5 हजार रुपये दिए जाएंगे। इसके अलावा कुछ दिव्यांगों को ट्रायसाइकिल, व्हील चेयर और अन्य उपकरण भी दिए जाएंगे।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि समाज कल्याण मंत्री यशपाल आर्य होंगे तथा कार्यक्रम की अध्यक्षता मेयर हल्द्वानी नगर निगम डॉ जोगेंद्र सिंह रौतेला द्वारा की जाएगी।

निदेशक के अनुसार इससे पूर्व वर्ष 2012-13 के दौरान इस तरह का कार्यक्रम हल्द्वानी में आयोजित किया गया था और अब लंबे अंतराल के बाद पुनः इस तरह का कार्यक्रम किया जा रहा है।

इस मौके पर समाज कल्याण के उपनिदेशक कांति राम जोशी व वित्त नियंत्रक रुचिता तिवारी भी मौजूद थी।