समाज

पौड़ी में बर्तन न धोने पर छात्रा को बेरहमी से पीटने के बाद शिक्षिका ने की गला दबाने की कोशिश, सहपाठी ने किया वीडियो वायरल

Janjwar Desk
13 Jan 2023 9:30 AM GMT
Violence against Dalits: दलितों पर हिंसा: तमाम क़ानूनों के बावजूद क्यों नहीं लगती लगाम
x

Violence against Dalits: दलितों पर हिंसा: तमाम क़ानूनों के बावजूद क्यों नहीं लगती लगाम

Pauri news : पौड़ी जिले के देवला पौखाल क्षेत्र में गुरु राम राय इंटर कॉलेज के हाल ही में लगे एनएसएस शिविर में पानी न होने के कारण एक छात्रा ने खाना खाने के बाद अपने बर्तन नहीं धोए थे, बर्तन न धोने की बात जब विद्यालय की शिक्षिका को पता चली तो उसने छात्रा को कमरे में पीटना शुरू कर दिया, इस दौरान पहले तो शिक्षिका ने छात्रा पर काफी थप्पड़ बरसाए, इसके बाद झल्लाई शिक्षिका छात्रा का गला तक दबा डाला...

Pauri news : उत्तराखंड के पौड़ी जिले में एक शिक्षिका ने बेरहमी से एक छात्रा की निर्मम पिटाई कर दी। पानी न होने के कारण झूठे बर्तन न धो पाने के जुर्म में छात्रा की बेरहमी से की गई इस पिटाई का वीडियो बनाकर छात्रा के किसी सहपाठी ने ही जब वायरल किया तो शिक्षा विभाग के अधिकारियों के होश उड़ गए। घटना के बाद शिक्षा विभाग ने मामले में कार्यवाही के लिए आरोपी शिक्षिका के खिलाफ फिलहाल विभागीय जांच बिठा दी है। अलबत्ता पीड़ित छात्रा के परिजनों की ओर से मामले में पुलिस को शिकायत नहीं की गई है। वीडियो वायरल होने के बाद सोशल मीडिया पर तमाम लोग शिक्षिका के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की मांग कर रहे हैं।

जानकारी के अनुसार पौड़ी जिले के देवला पौखाल क्षेत्र में गुरु राम राय इंटर कॉलेज के हाल ही में लगे एनएसएस शिविर में पानी न होने के कारण एक छात्रा ने खाना खाने के बाद अपने बर्तन नहीं धोए थे। बर्तन न धोने की बात जब विद्यालय की शिक्षिका को पता चली तो उसने छात्रा को कमरे में पीटना शुरू कर दिया। इस दौरान पहले तो शिक्षिका ने छात्रा पर काफी थप्पड़ बरसाए। इसके बाद झल्लाई शिक्षिका छात्रा का गला तक दबा डाला। पिटाई की शिकार हुई छात्रा ने किसी तरह शिक्षिका के चंगुल से छूटकर कमरे से बाहर भागकर अपनी जान बचाई।

शिक्षिका की इस निर्मम पिटाई का किसी को पता भी नहीं चलता, यदि वहीं मौके पर मौजूद छात्रा के किसी सहपाठी ने इस पूरी घटना का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल न कर दिया होता। शिक्षिका की इस पिटाई का यह वीडियो वायरल होते ही सोशल मीडिया पर शिक्षिका की क्रूरता देखते हुए लोगों में आक्रोश पनप गया। लोग आरोपी शिक्षिका के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की मांग करने लगे।

दूसरी तरफ सोशल मीडिया पर वायरल यह वीडियो जब शिक्षा विभाग के अधिकारियों के संज्ञान में आया तो उन्होंने वीडियो के सच होने की पुष्टि कर दी, जिसके बाद मामले का संज्ञान लेते हुए जिला शिक्षा अधिकारी ने इस प्रकरण पर जांच बैठा दी है। विभाग जांच के बाद आरोपी शिक्षिका के खिलाफ कार्यवाही की बात कह रहा है। दूसरी तरफ इस मामले में पीड़ित छात्रा के अभिवावकों की ओर से अभी पुलिस को कोई रिपोर्ट नहीं की गई है।

Next Story

विविध