बिहार चुनाव 2020

Breaking: महागठबंधन में हो गया सीटों का एलान, जानिए किसे मिलीं कितनी सीटें, जनज्वार की खबर पर लगी मुहर

Janjwar Desk
3 Oct 2020 12:24 PM GMT
Breaking: महागठबंधन में हो गया सीटों का एलान, जानिए किसे मिलीं कितनी सीटें, जनज्वार की खबर पर लगी मुहर
x
महागठबंधन में सीटों का एलान कर दिया गया है। राजद, कांग्रेस, तीनों वामदल और वीआईपी मिलकर विधानसभा का चुनाव लड़ेंगे...

जनज्वार ब्यूरो, पटना। महागठबंधन में सीटों का एलान कर दिया गया है। राजद, कांग्रेस, तीनों वामदल और वीआईपी मिलकर विधानसभा का चुनाव लड़ेंगे। इसके साथ ही जनज्वार की खबर पर भी मुहर लग गई है। आज की गई घोषणा के अनुसार राजद 144, कांग्रेस 70 और लेफ्ट पार्टीज 29 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे।

जनज्वार ने कल 2 अक्टूबर को ही यह खबर प्रकाशित कर दी थी कि महागठबंधन में वामदल भी साथ रहेंगे एयर कांग्रेस को 68 तथा वामदलों को 29 सीटें, जिनमें माले को 19 तथा भाकपा-माकपा को 10 सीटें मिलेंगी। आज की घोषणा के अनुसार वामदलों को एक्जैक्टली 29 सीटें इसी अनुपात में ही मिलीं हैं। वहीं जनज्वार ने कल कांग्रेस को 68 सीट मिलने की खबर प्रकाशित की थी।

राजद अपने कोटे की 144 में से ही वीआईपी और जेएमएम को भी सीटें देगा। वहीं वाल्मीकि नगर लोकसभा का उपचुनाव महागठबंधन की ओर से कांग्रेस लड़ेगी।

इस बीच सीटों के एलान के बीच ही वीआईपी पार्टी के मुकेश साहनी उठकर चले गए हैं। उनके समर्थक प्रेस कॉन्फ्रेंस के बीच ही नारेबाजी करने लगे। वे सीट बंटवारे से असंतुष्ट नजर आ रहे हैं।

वीआईपी को आरजेडी को अपने कोटे से सीट देना था, लेकिन सीट शेयरिंग से असंतुष्ट मुकेश सहनी प्रेस कॉन्फ्रेंस से उठकर चले गए। वीआईपी के कार्यकर्ताओं ने टिकट बंटवारे को लेकर काफी हंगामा किया। वीआईपी 25 सीटों की मांग कर रही थी।

तेजस्वी यादव ने बिहार में परिवर्तन की बात दोहराई है। चुनाव से पहले तेजस्वी यादव ने एक दावे में कहा कि अगर उनकी सरकार बनती है तो पहली ही कैबिनेट बैठक में बिहार के 10 लाख युवाओं को नौकरी का आदेश देंगे। तेजस्वी यादव ने कहा, बिहार में 4 लाख 50 हजार रिक्तियां पहले से ही हैं। शिक्षा, स्वास्थ्य, गृह विभाग सहित अन्य विभागों में राष्ट्रीय औसत के मानकों के हिसाब से बिहार में अभी 5 लाख 50 हजार नियुक्तियों की अत्यंत आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि कैबिनेट की पहली बैठक में पहली कलम से 10 लाख नौकरियों के विज्ञापन पर हस्ताक्षर होगा। फार्म का शुल्क भी नहीं लगेगा।

हालांकि इसके लिए आयोजित किए जानेवाले प्रेस कॉन्फ्रेंस के थोड़ी देर पहले अचानक राजद नेता और लालू यादव के बड़े पुत्र तेजप्रताप यादव की तबियत बिगड़ गई थी और एक वक्त ऐसा लगा कि आज सीट शेयरिंग का एलान नहीं हो पायेगा, लेकिन फिर निर्धारित समय के काफी देर बाद एक निजी होटल में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसका ऐलान कर दिया गया है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में तेजस्वी यादव, तेज प्रताप यादव भी मौजूद हैं। इसके अलावा कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता सदानन्द सिंह और वीआईपी के अध्यक्ष मुकेश साहनी सहित वामदलों के नेता मौजूद हैं।

Next Story

विविध

Share it