आर्थिक

SVANidhi Yojana : ऐसे उठाएं लाभ | SVANidhi Yojana Apply | स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि ऑनलाइन आवेदन | स्वनिधि योजना आवेदन फॉर्म | SVANidhi Yojana In Hindi

Janjwar Desk
24 Dec 2021 6:04 PM GMT
SVANidhi Yojana : ऐसे उठाएं लाभ | SVANidhi Yojana Apply | स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि ऑनलाइन आवेदन | स्वनिधि योजना आवेदन फॉर्म | SVANidhi Yojana In Hindi
x
SVANidhi Yojana : स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) का पूरा नाम स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि (PMSVANidhi) है। जो सड़क किनारे ठेला, रेहड़ी, पटरी, खोमचा, गुमटी लगाने वालों वालों के लिए माइक्रो क्रेडिट लोन या माइक्रो क्रेडिट सुविधा के रूप में है...

SVANidhi Yojana : स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) का पूरा नाम स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि (PMSVANidhi) है। जो सड़क किनारे ठेला, रेहड़ी, पटरी, खोमचा, गुमटी लगाने वालों वालों के लिए माइक्रो क्रेडिट लोन या माइक्रो क्रेडिट सुविधा के रूप में है। इसमें 10 हजार रुपये तक का लोन लिया जा सकता है और ठेला-पटरी वाले अगर इस लोन को लेना चाहें तो बिना गारंटी के लोन ले सकते हैं। एक साल के लिए दिए जाने वाले इस लोन में सब्सिडी का भी प्रावधान है जिसके तहत अगर आप समय से पहले लोन चुका देते हैं तो आपको 7 फीसदी प्रतिवर्ष के हिसाब से ब्याज या इंटरेस्ट रेट सब्सिडी मिल जाती है। वहीं अगर डिजिटल तरीके से लोन को चुकाना चाहते हैं तो आपको साल में 1200 रुपये का कैशबैक भी दिया जा सकता है। जाहिर तौर पर इसके लिए लोन के आवेदनकर्ता को किसी ऐसे शख्स की मदद लेनी होगी जो डिजिटल माध्यम की जानकारी रखता हो।

देश में ग्रामीण और शहरी सड़को के किनारे स्‍ट्रीट वेंडर जो फल, सब्जियां बेचते हैं या रेहड़ी पर छोटी-मोटी दुकान लगाते हैं वे इस स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) के तहत सरकार द्वारा 10000 रूपये का लोन प्राप्त कर सकते है सरकार द्वारा लिया गया यह ऋण रेहड़ी पटरी वाले लोगो को एक साल के भीतर किस्त में लौटना होगा | इस लोन को समय पर चुकाने वाले स्ट्रीट वेंडर्स को सात फीसद का वार्षिक ब्याज सब्सिडी के तौर पर उनके अकाउंट में सरकार की ओर से ट्रांसफर किया जाएगा। देश के जो इच्छुक लाभार्थी इस योजना का लाभ उठाना चाहते है तो उन्हें इस योजना के तहत आवेदन करना होगा | स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि के अंतर्गत विभिन्न क्षेत्रों में वेंडर, हॉकर, ठेले वाले, रेहड़ी वाले, ठेली फलवाले आदि सहित 50 लाख से अधिक लोगों को इस योजना से लाभ प्रदान किया जायेगा |

स्वनिधि योजना का उद्देश्य

स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) का उद्देश्य ब्याज की रियायती दर पर 10,000 रुपये तक का कार्यशील पूंजी ऋण प्रदान करना। ऋण की नियमित भुक्तान को प्रोत्साहित करना। इसके अलावा, डिजिटल लेनदेन को पुरस्कृत करना। इस योजना के जरिये रेहड़ी पटरी वालो को आत्मनिर्भर और सशक्त बनाना और साथ ही लोगो की स्थिति में सुधार करना है।

देश के रेहड़ी-पटरी वालों ,और ठेले पर सामान बेचने वाले अपना जीवन यापन करने के लिए काम नहीं कर पा रहे है | जिसकी वजह से उन्हें काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। इस समस्या को देखते हुए केंद्र सरकार ने इस योजना को शुरू करने की घोषणा की है | स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि के अंतर्गत रेहड़ी पटरी वालो को अपना काम दोबारा से शुरू करने के लिए सरकार द्वारा लोन मुहैया कराना | इस योजना के ज़रिये रेहड़ी पटरी वालो को आत्मनिर्भर और सशक्त बनाना और गरीब लोगो की स्थिति में सुधार करना।

स्वनिधि योजना के लाभ

स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) का लाभ सड़क के किनारे रेहड़ी पटरी वालो को प्रदान किया जायेगा। स्वनिधि योजना के अंतर्गत शहरी / ग्रामीण क्षेत्रों के आस-पास सड़क पर माल बेचने वाले विक्रेताओं को इसमें लाभार्थी बनाया गया है। देश के स्ट्रीट वेंडर सीधा 10,000 रुपये तक की कार्यशील पूंजी ऋण का लाभ उठा सकते हैं। जिसे वे एक वर्ष में मासिक किस्तों में चुका सकते हैं। इस योजना के अंतर्गत 50 लाख से अधिक लोगो को लाभ पहुंचाया जायेगा। इस लोन को समय पर चुकाने वाले स्ट्रीट वेंडर्स को सात फीसद का वार्षिक ब्याज सब्सिडी के तौर पर उनके अकाउंट में सरकार की ओर से ट्रांसफर किया जाएगा। स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) के तहत जुर्माने का कोई प्रावधान नहीं है।

यह प्रौद्योगिकी का उपयोग करते हुए लोगों की क्षमता को बढ़ाने और कोरोना संकट के समय कारोबार को नए सिरे से खड़ा कर आत्मनिर्भर भारत अभियान को सफल बनाने का काम करेगी। लोगों को पीएम स्ट्रीट आत्मनिर्भर निधि योजना की आधिकारिक वेबसाइट (लॉन्च की जाने वाली) पर ऑनलाइन आवेदन करना होगा या प्रारंभिक कार्यशील पूंजी ऋण प्राप्त करने के लिए बैंकों में ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं। इससे ये लोग कोरोना संकट के समय अपने कारोबार को नए सिरे से खड़ा कर आत्मनिर्भर भारत अभियान को गति देंगे।' इस योजना के तहत आपको खाते में पूरा पैसा तीन बार में आएगा यानी हर तीन महीने पर एक किश्त मिलेगी। यह लोन सात फीसदी ब्याज पर मिलेगा।

स्वनिधि योजना का लक्ष्य

स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) का लक्ष्य है कि इस योजना से 50 लाख से अधिक स्ट्रीट वेंडर्स, हॉकर, ठेले वाले, रेहड़ी वाले, ठेली फलवाले इत्यादि को लाभान्वित करने की संभावना है, जो शहरी क्षेत्रों में 24 मार्च या उससे पहले वेंडिंग कर चुके थे। लाभार्थियों के रूप में, आसपास के शहरी या ग्रामीण क्षेत्रों से संबंधित स्ट्रीट वेंडर भी पहली बार शहरी आजीविका कार्यक्रम के तहत शामिल हैं।

स्वनिधि योजना के अंतर्गत सब्सिडी

स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) के माध्यम से देश की रेहड़ी पटरी वाले विक्रेताओं को 10000 रुपए का ऋण उपलब्ध करवाया जाता है। इस योजना को कोरोनावायरस महामारी को ध्यान में रखते हुए आरंभ किया गया है। वह सभी नागरिक जो सड़क पर छोटे-मोटे सामान की बिक्री करके अपना उद्योग आरंभ करना चाहते हैं उनको इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को 7% की दर से ब्याज सब्सिडी प्रदान की जाएगी। सब्सिडी की राशि ऋण प्राप्त करने वाले लाभार्थी के खाते में हर तिमाही में जमा की जाएगी। 30 जून 2021 को सभी लाभार्थियों के खाते में ऋण दाताओं द्वारा सब्सिडी जमा की गई है। अब अगली सब्सिडी 30 दिसंबर 2021 को जमा की जाएगी।

डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा

स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) के माध्यम से कैशबैक सुविधा प्रदान करके विक्रेताओं को डिजिटल लेनदेन में प्रोत्साहित किया जाएगा। डिजिटल माध्यम से किए गए लेनदेन के माध्यम से विक्रेताओं के क्रेडिट स्कोर में भी बढ़ोतरी होगी। जिससे कि उन्हें भविष्य में लोन प्राप्त करने में आसानी होगी। गूगल पे, अमेजॉन पे, भारत पे आदि जैसे डिजिटल भुगतान एग्रीगेटर नेटवर्क का इस्तेमाल स्ट्रीट वेंडर के अंतर्गत डिजिटल लेनदेन को प्रोत्साहित करने के लिए किया जाएगा। सभी ऑनबोर्ड विक्रेताओं को 50 रुपए से 100 रुपए तक का कैशबैक प्रदान किया जाएगा। एक माह में 50 एलिजिबल ट्रांजैक्शन करने पर 50 रुपए का कैशबैक, इसके बाद अगले 50 ट्रांजैक्शन करने पर 25 रुपए और उसके बाद अगले 100 रुपए या उससे ज्यादा ट्रांजैक्शन करने पर 25 रुपए प्रदान किए जाएंगे। कुल मिलाकर विक्रेताओं को 100 रुपए का कैशबैक एक माह में प्रदान किया जाएगा।

स्वनिधि योजना में आवेदन

स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) का आरंभ कोरोना वायरस के संकट को देखते हुए स्ट्रीट वेंडर्स को आर्थिक सहायता प्रदान करने लिए किया गया था। इस योजना के अंतर्गत प्रत्येक लाभार्थी को 10000 रुपए की आर्थिक सहायता सरकार द्वारा प्रदान की जाएगी। यह आर्थिक सहायता प्राप्त करने के लिए स्ट्रीट वेंडर्स को आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। अब तक स्वनिधि योजना के अंतर्गत 27.33 लाख आवेदन प्राप्त हो चुके हैं। इस योजना के अंतर्गत 14.34 आवेदनों को मंजूरी दे दी गई है। स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) के अंतर्गत 7.88 रुपए लाख रुपए का कर्ज वितरित अब तक कर दिया गया है। इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए बैंक से भी आवेदन पत्र प्राप्त किया जा सकता है।

स्वनिधि योजना में कौन कौन लोन दे सकता है

स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) के अंतर्गत शेड्यूल्ड कमर्शियल बैंक, रीजनल रूरल बैंक्स, स्मॉल फाइनेंस बैंक, कोऑपरेटिव बैंक, नॉन बैंकिंग फाइनेंस कंपनीज, माइक्रोफाइनेंस इंस्टीट्यूशन, सेल्फ हेल्प ग्रुप बैंक्स, स्त्री निधि आदि लोन दे सकते है।

स्वनिधि योजना एकीकृत और कार्यान्वयन

स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए प्रशासन द्वारा एक एकीकृत प्लेटफार्म विकसित किया जाएगा। यह एकीकृत प्लेटफार्म प्रशासन को वन स्टॉप सॉल्यूशन प्रदान करेगा। मिनिस्ट्री ऑफ हाउसिंग एंड अर्बन अफेयर्स एल एवं अर्बन अर्बन लोकल बॉडी के माध्यम से इस योजना का कार्यान्वयन किया जाएगा। अर्बन लोकल बॉडी द्वारा ही लाभार्थी का सत्यापन इस योजना के अंतर्गत किया जाएगा। सत्यापन के लिए लाभार्थी के मोबाइल पर एक ओटीपी भेजा जाएगा जिसको प्रदान करके लाभार्थियों अपना सत्यापन करवा सकेगा। इस योजना। इस योजना के कार्यान्वयन के लिए स्मॉल इंडस्टरीज डेवलपमेंट बैंक ऑफ इंडिया इंप्लीमेंटेशन पार्टनर होंगी।

स्वनिधि योजना का नई अपडेट

स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) के अंतर्गत रेहड़ी, पटरी लगाने वाले छोटे कारोबारी को 10,000 रुपये तक का कर्ज देशभर में फैले 3.8 लाख साझा सेवा केन्द्रों (सीएससी) केन्द्रों के जरिये प्रदान किया जायेगा। सरकार की डिजिटल और ई- गवर्नेंस सेवा इकाई सीएससी ई- गवर्नेंस सविर्सिज इंडिया लिमिटेड ने बुधवार को यह कहा है कि प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि योजना पूरी तरह से आवास एवं शहरी मामलों के मंत्रालय द्वारा वित्तपोषित है इस योजना के तहत कर्ज लेने वाले इन उद्यमियों को कर्ज का नियमित रूप से भुगतान करने के लिए प्रोत्साहन भी दिया जायेगा और डिजिटल लेनदेन पर पुरस्कृत भी किया जायेगा। सीएससी योजना के तहत इन छोटे कारोबारियों का पंजीकरण करने में मदद करेगी अब तक इस योजना के तहत दो लाख आवेदन प्राप्त हुये हैं जबकि 50 हजार कारोबारियों को कर्ज मंजूर किया गया है।

स्वनिधि योजना के मुख्य तथ्य

स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) के अंतर्गत केवल उन्हीं राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों के स्पीड वेंडर भाग ले सकते हैं जहां स्ट्रीट वेंडर अधिनियम 2014 के अंतर्गत नियमों और योजनाओं की अधिसूचना है। इस योजना के अंतर्गत उन सभी स्ट्रीट वेंडर को पात्र माना जाएगा जो वेंडिंग के काम में 24 मार्च 2020 से पहले से हैं। सभी स्ट्रीट वेंडर को लगभग 10000 रुपए का ऋण 1 वर्ष के लिए उपलब्ध करवाया जाएगा।

इस लोन पर किसी प्रकार की सिक्योरिटी नहीं देनी होगी। इस लोन को 1 साल की अवधि के अंदर अंदर मासिक किस्त के माध्यम से वापस करना होगा। यदि लाभार्थी द्वारा समय पूरा होने से पहले या फिर समय पर पूरा पैसे चुका दिया जाए तो लाभार्थी को 10000 रुपए से ज्यादा का लोन अगले वर्ष प्रदान किया जा सकता है। इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी को ब्याज अनुदान भी प्रदान किया जाएगा। यह ब्याज अनुदान 7% का होगा। जो कि हर 4 महीने में लाभार्थी के खाते में भेजा जाएगा। यह अनुदान 31 मार्च 2021 तक प्रदान किया जाएगा।

स्वनिधि योजना के लाभार्थी

स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) के लाभार्थी पात्र स्वनिधि योजना के पात्र लाभार्थी नाई की दुकानें, जूता गांठने वाले (मोची), पान की दूकानें (पनवाड़ी), कपड़े धोने की दूकानें (धोबी), सब्जियां बेचने वाले, फल बेचने वाले, रेडी-टू-ईट स्ट्रीट फूड, चाय का ठेला या खोखा लगाने वाले, ब्रेड, पकौड़े व अंडे बेचने वाले, फेरीवाले जो वस्त्र बेचते हैं, किताबें/स्टेशनरी लगाने वाले, कारीगर उत्पाद वाले है।

स्वनिधि योजना की पात्रता

वह स्ट्रीट वेंडर स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) का लाभ प्राप्त करने के पात्र हैं जिनके पास वेंडिंग का सर्टिफिकेट या फिर आईडेंटिटी कार्ड है। वह विक्रेता जिनकी सर्वेक्षण में पहचान की गई है लेकिन उन्हें वेंडिंग या फिर पहचान का प्रमाण जारी नहीं किया गया है। ऐसे सभी विक्रेताओं के लिए एक आईडी आधारित प्लेटफार्म के माध्यम से अंतिम वेंडिंग प्रमाण पत्र तैयार किया जाएगा। सरकार द्वारा यूएलबी को भी प्रोत्साहित किया जाता है कि वह ऐसे विक्रेताओं को एक महीने की अवधि के भीतर तत्काल और सकारात्मक रूप से वेंडिंग और पहचान पत्र का स्थाई प्रमाण पत्र जारी करें। वह स्ट्रीट बेंडर जो यूएलबी पहचान सर्वेक्षण से बाहर हो गए हैं या उन्होंने सर्वेक्षण पूरा होने के बाद वेंडिंग आरंभ की है और यूएलबी या टाउन वेंडिंग कमेटी द्वारा इस आशय का सिफारिश पत्र जारी किया गया है। वह विक्रेता जो शहरी स्थानीय निकाय की भौगोलिक सीमाओं में बिक्री करते हैं। और उनको यूएलबी या फिर टीवीसी द्वारा इस आशय का सिफारिश पत्र जारी किया गया है।

स्वनिधि योजना के दस्तावेज

स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) में आवेदन करने के लिए आवेदक का आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, बैंक अकाउंट पासबुक, मोबाइल नंबर, पासपोर्ट साइज फोटो दस्तावेज जरुरी है।

स्वनिधि योजना में आवेदन

देश के जो इच्छुक रेहड़ी और पटरी वाले लाभार्थी स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) के अंतर्गत सरकार द्वारा लाभ प्राप्त करना चाहते है तो उन्हें इस योजना के तहत आवेदन करना होगा। सबसे पहले आवेदक को योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद लाभार्थी सामने कंप्यूटर स्क्रीन पर होम पेज खुल जाएगा। इस होम पेज पर प्लानिंग टू अप्लाई फॉर लोन (Planning to Apply for Loan) का ऑप्शन दिखाई देगा। जिसके बाद Planning to Apply for Loan के सेक्शन सभी 3 स्टेप्स को ध्यान से पढ़ कर आगे बढ़ना है और व्यू मोर (View More) के बटन पर क्लिक करना होगा।

इसके बाद लाभार्थी के सामने अगला पेज खुल जायेगा। इस पेज पर View / Download Form के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। जिसके बाद लाभार्थी के सामने स्वनिधि योजना के फॉर्म की पीडीएफ खुल जायेगा। इस योजना की पीडीएफ को डाउनलोड कर सकते है। एप्लीकेशन फॉर्म डाउनलोड करने के बाद इस फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी भरनी होगी। सभी जानकारी भरने के बाद एप्लीकेशन के साथ अपने सभी जरुरी दस्तावेज़ों को अटैच करना होगा। इसके बाद एप्लीकेशन फॉर्म को नीचे बताये गए संस्थानों में जाकर जमा करना होगा। नीचे संस्थानों की सूची दिखाई गई है।

स्वनिधि योजना के अंतर्गत लॉगिन करने की प्रक्रिया

स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) सबसे पहले लाभार्थी को स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। अब आवेदनकर्ता के सामने होम पेज खोलकर आएगा। होम पेज पर लॉगइन के टैब पर क्लिक करना होगा। अब अपनी कैटेगरी के अनुसार लिंक पर क्लिक करना होगा। इन कैटेगरी में एप्लीकेंट, लेंडर, मिनिस्ट्री/स्टेटस/यूएलबी, सीएससी कनेक्ट, सिटी नोडल ऑफिसर होगी। अब सामने एक नया फॉर्म खुल कर आएगा जिसमें लाभार्थी को अपना यूजरनेम तथा पासवर्ड दर्ज करना होगा।अब लॉगिन के लिंक पर क्लिक करना होगा। इस प्रकार लॉगिन कर पाएंगे।

20 हजार के लोन के लिए आवेदन

20 हजार के लोन के लिए आवेदन करने के लिए लाभार्थी को सबसे पहले स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। अब लाभार्थी सामने होम पेज खुल कर आएगा। होम पेज पर अप्लाई लोन 20k के विकल्प पर क्लिक करना होगा। अब सामने एक नया पेज खुल कर आएगा। इस पेज पर अपना मोबाइल नंबर या फिर आधार नंबर दर्ज करके लॉगइन करना होगा। अब सामने आवेदन फॉर्म खुल कर आएगा। आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी। इसके बाद लाभार्थी को सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होगा। अब लाभार्थी को सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा। इस प्रकार लोन के लिए आवेदन कर पाएंगे।

Janjwar Desk

Janjwar Desk

    Next Story

    विविध