पर्यावरण

Aaj Ka Mausam/Weather Today, 26 October: कश्मीर में सामान्य हुआ मौसम, दक्षिण राज्यों में 'येलो अलर्ट' जारी

Janjwar Desk
25 Oct 2021 7:20 PM GMT
Aaj Ka Mausam/Weather Today, 26 October: कश्मीर में सामान्य हुआ मौसम, दक्षिण राज्यों में येलो अलर्ट जारी
x
मौसम विभाग द्वारा अगले चार दिनों के पुर्वानुमान में मध्य, उत्तर और पुरोत्तर भारत में बारिश को लेकर फिलहाल कोई आशंका नहीं जताई गई है. Aaj Ka Mausam | Mausam Vibhag| Barish Ka Alert | Barfbari Ka Alert

Aaj Ka Mausam: त्योहारी सीजन के आगमन के बीच बारिश का सिलसिला थम गया है। आईएमडी के ताजा अपडेट केे अनुसार, देश से 25 अक्टूबर को दक्षिण-पश्चिम मॉनसून की वापसी हो चुकी है। आने वाले दिनों में दक्षिण राज्यों को छोड़कर अन्य जगहों पर मौसम साफ रहेगा। कश्मीर समेत अन्य पर्वतीय क्षेत्रों में भी बर्फबारी और बारिश ने ब्रेक लगाया है। लेकिन, आने वालेेे दिनों में भारत के दक्षिण राज्यों में बारिश होगी। इसको लेकर कई राज्यों में येलो अलर्ट जारी किया गया हैै।

केरल-कर्नाटक-तमिलनाडु में अगले 4 दिन होगी बारिश

दक्षिण पश्चिम मानसून के जाने के साथ ही पूर्वोत्तर मानसून भी दस्तक दे चुका है। आईएमडी के अनुसार, आने वाले दिनों में पूर्वोत्तर मानसून के कारण बारिश की गतिविधियां जारी रहेगी।मौसम विभाग द्वारा अगले चार दिनों के पुर्वानुमान में मध्य, उत्तर और पुरोत्तर भारत में बारिश को लेकर फिलहाल कोई आशंका नहीं जताई गई है। वहीं, पूर्वोत्तर मानसून के चलते 29 अक्टूबर तक दक्षिण के केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु समेत अन्य दक्षिणी इलाकों में बारिश होने की संभावना जारी की गई है। दक्षिण के सभी राज्यों में अगले पांच दिनों तक येलो अलर्ट जारी किया गया है। इस दौरान यहां छिटपुट से भारी बारिश की आशंका है।


अगले 24 घंटों के दौरान मौसम

मौसम की जानकारी देने वाली निजी संस्था स्काईमेट वेदर के अनुसार, अगले 24 घंटों के दौरान पश्चिमी हिमालय पर बारिश और बर्फबारी की गतिविधियां अब बंद हो जाएंगी। वहीं, पश्चिमोत्तर और मध्य भारत का मौसम भी शुष्क रहेगा। उत्तर पश्चिम और मध्य भारत के कुछ हिस्सों में न्यूनतम तापमान में गिरावट होने की संभावना है जिससे ठंड का एहसास होगा।

पूर्वोत्तर मॉनसून के उपस्थिति के कारण तटीय कर्नाटक, दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, तमिलनाडु और केरल के कुछ हिस्सों में अगले 24 घंटों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। दक्षिण के इन राज्यों में 29 अक्टूबर तक हल्की से मध्यम और भारी बारिश के साथ गरज और बिजली गिरने की संभावना है। इसी के साथ तटीय कर्नाटक के लिए इसी तरह का मौसम अलर्ट अगले 4 दिन के लिए और तटीय आंध्र प्रदेश के लिए 24 घंटे का अलर्ट जारी किया जा चुका है।

इसी के साथ, रायलसीमा, तटीय आंध्र प्रदेश और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में एक दो स्थानों पर हल्की बारिश हो सकती है। स्काईमेट ने कहा है कि उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम और बिहार के पूर्वी हिस्सों के कुछ हिस्सों में हल्की से बहुत हल्की बारिश हो सकती है।


घाटी में पटरी पर लौटी जिंदगी

जम्मू-कश्मीर में शनिवार से ही भारी बर्फबारी, बारिश, ओलावृष्टि होरही थी। बारिश और बर्फबारी के चलते यातायात सुविधा, बिजली और पानी जैसी मूलभूत सुविधाएं ठप हो गई थी। लेकिन, सोमवार, 25 अक्टूबर को घाटी के मौसम में सुधार हुआ। बारिश, बर्फबारी थम गई और सुबह से ही अच्छी-खासी धूप भी निकली जिससे लोगों को कंपकंपाती ठंड से राहत मिली है। वहीं मौसम में सुधार केे बाद जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर आवाजाही फिर से शुरू हो गई। श्रीनगर स्थित स्थानीय मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार, अगले कुछ दिन मौसम साफ ही रहेगा। इससे तापमान में भी सुधार देखने को मिलेगा।

बता दें कि शनिवार और रविवार को भारी बर्फबारी और बारिश के बाद जम्मू कश्मीर के तापमान में भारी गिरावट दर्ज की गई है। शनिवार की रात मौसम की सबसे ठंडी रात रही। गुलमर्ग, पहलगाम, लेह, कारगिल का न्यूनतम तापमान शून्य से भी नीचे चला गया है। गुलमर्ग का न्यूनतम तापमान -3.0 डिग्री सेल्सियस तक लुढ़क गया। कुकरनाग का न्यूनतम तापमान 1.2 डिग्री सेल्सियस और पहलगाम का न्यूनतम तापमान -0.1 डिग्री सेल्सियस रहा। जम्मू संभाग के अन्य क्षेत्रों में न्यूनतम तापमान पांच डिग्री सेल्सियस से नीचे आ गया है।

Next Story

विविध

Share it