स्वास्थ्य

तीसरी लहर की आशंका के बीच देश में फिर से बढ़ रहे कोविड केस, मगर घोर लापरवाहियां जारी

Janjwar Desk
5 Aug 2021 2:52 AM GMT
तीसरी लहर की आशंका के बीच देश में फिर से बढ़ रहे कोविड केस, मगर घोर लापरवाहियां जारी
x

सरकारी आंकड़ों में ही अब तक कोरोना से 4 लाख 26 हजार से ज्यादा लोग अपनी जान गंवा चुके हैं

देशभर से ऐसे भी तस्वीरें भी देखने को मिल रहीं हैं कि कोरोना से जुड़े प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया गया और बाजारों में बिना मास्क के लोगों की भीड़ है..

जनज्वार। कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर के थमने के बाद भी पिछले कुछ दिनों से देश में संक्रमितों का आंकड़ा फिर बढ़ रहा है।खासकर कुछ राज्यों में कोरोना के मामलों में बीते दिनों चिंतनीय बढ़ोतरी देखने को मिली है। साथ ही देशभर से ऐसे भी तस्वीरें हाल के दिनों में देखने को मिली है कि कोरोना से जुड़े प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया गया और बाजारों में बिना मास्क के लोगों की भारी भीड़ देखने को मिली।इन सबके बीच कई राज्यों में कोविड लॉकडाउन में छूट लगातार बढ़ाई जा रही है।

बिहार में 7 अगस्त से 9 वीं व 10 वीं तथा 16 अगस्त से पहली से 8 वीं कक्षा तक के स्कूलों को खोलने का आदेश जारी कर दिया गया है तो केरल ने एलान किया है कि राज्य में ओनम के मौके पर कोई लॉकडाउन नहीं होगा। वहीं, ओडिशा के पुरी जिले में स्थित कोणार्क सूर्य मंदिर जनता के लिए सोमवार को खोल दिया गया। कोरोना की दूसरी लहर के चलते मंदिर सौ दिन से अधिक समय से बंद था। साथ ही जगन्नाथ मंदिर को स्थानीय लोगों के लिए 16 अगस्त से 20 अगस्त तक खोलने का फैसला लिया गया है। वहीं 23 अगस्त से ये सभी लोगों के खुल जाएगा, हालांकि साथ में आरटी-पीसीआर टेस्ट या वैक्सीनेशन का सर्टिफिकेट लाना होगा।

बता दें कि 4 अगस्त को जारी किए गए आंकड़े के अनुसार इस बीच देशभर में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 3 करोड़ 18 लाख 10 हजार को पार कर चुका है। कोरोना संक्रमण के कारण अभी तक कुल 4 लाख 26 हजार से ज्यादा लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। 3 करोड़ 9 लाख 66 हजार लोगों का सफल इलाज हुआ है। वहीं 4 लाख 17 हजार से ज्यादा कोरोना संक्रमित अभी अपना इलाज करवा रहे हैं।

इन सबके बीच कोरोना की तीसरी लहर के आने की चर्चाएं लगातार चल रहीं हैं। विशेषज्ञ और वैज्ञानिक लगातार इसकी चेतावनी जारी कर रहे हैं लेकिन कोरोना से बचाव के लिए जरूरी प्रोटोकॉल के पालन में लगातार ढिलाई देखने को मिल रही है। हाट-बाजारों में भीड़ तो दिख ही रही है, कई इलाकों में बिना मास्क के लोगों के घूमने की तस्वीरें भी देखने को मिल रहीं हैं।

उधर सरकार द्वारा जारी किए गए आंकड़े के अनुसार 4 अगस्त को बीते 24 घंटे में 42,625 लोग कोरोना संक्रमित हुए हैं और 562 लोगों की कोरोना संक्रमण से मौत हो गई है। इस दौरान 36,668 लोगों को इलाज कर ठीक किया जा चुका है। वहीं वर्तमान में कोरोना के कुल 4,10,353 एक्टिव मामले हैं।

भारत में रविवार को खत्म हुए हफ्ते (26 जुलाई से 1 अगस्त) में 2.86 लाख नए केस आए। यह पिछले हफ्ते के 2.66 लाख केस से 7.5% अधिक है। 26 जुलाई तक एक सप्ताह का डेली एवरेज घट रहा था। केस कम होने का रेट घटकर 1.4% रह गया था।

वास्तविकता यह है कि 6 मई को 4.14 लाख केस के साथ दूसरी लहर का पीक आया था और उसके बाद से लगातार केस घट रहे थे। पर 25 जून के बाद से नए केस का आंकड़ा 30 हजार और 50 हजार के बीच अटका हुआ है।

उधर पटना में मंगलवार को आइजीआइएमएस अस्पताल में कोरोना से एक मरीज की मौत हो गयी है जबकि दो नये मरीजों को भर्ती कराया गया है। दूसरी ओर यहां एक ब्लैक फंगस के मरीज की भी मौत हो गयी है। IGIMS के मेडिकल सुपरिटेंडेंट डॉ मनीष मंडल ने बताया कि वर्तमान में यहां कुल 15 कोरोना और 14 ब्लैक फंगस के मरीज भर्ती हैं। साथ ही नौ नये ब्लैक फंगस के मरीजों को भर्ती कराया गया है। हालांकि यहां कुल 34 कोविड वार्ड में बेड खाली हैं।

विशेषज्ञों का मानना है कि देश में कोरोना की दूसरी लहर अभी खत्म नहीं हुई है। संभावना जताई जा रही है कि भारत में तीसरी लहर भी जल्द दस्तक दे सकती है। इन सबके बीच देश मे त्योहारों का सीजन भी शुरू हो रहा है। ऐसे में आने वाले त्योहारों को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने सभी राज्यों को चिट्ठी लिखी है। इसमें उन्होंने कहा कि आने वाले त्योहारों को देखते हुए लोकल लेवल पर को लागू करने और सामूहिक समारोहों पर अंकुश लगाने के लिए सक्रिय रूप से विचार करें।

कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर को सबसे ज्यादा घातक बताया जा रहा है। इसे लेकर उड़ीसा के सीएम नवीन पटनायक का कहना है कि कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर जल्दी आ सकती है, जिसे लेकर वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी है। इसके साथ ही उनका कहना है कि तीसरी लहर के दौरान अगर लोग COVID प्रोटोकॉल का ठीक से पालन नहीं करेंगे तो सरकार को संपूर्ण लॉकडाउन लगाने के लिए मजबूर होना पड़ेगा।

Next Story

विविध

Share it