Top
आंदोलन

RSS-BJP की योगी सरकार घोर मजदूर विरोधी और कॉरपोरेट हितैषी : वर्कर्स फ्रंट

Janjwar Desk
23 Aug 2020 11:27 AM GMT
RSS-BJP की योगी सरकार घोर मजदूर विरोधी और कॉरपोरेट हितैषी : वर्कर्स फ्रंट
x

file photo

वर्कर्स फ्रंट ने दी चेतावनी कि योगी सरकार ने श्रम कानूनों में जो संशोधन किया है यह उत्तर प्रदेश में औद्योगिक विकास को अवरुद्ध करने का काम करेगा और प्रदेश में औद्योगिक अशांति को बढ़ावा देगा...

जनज्वार। उत्तर प्रदेश विधानसभा व विधान परिषद में बिना वोटिंग कराए हुए ही उत्तर प्रदेश औद्योगिक विवाद संशोधन विधेयक 2020, उत्तर प्रदेश कारखाना अधिनियम संशोधन विधेयक 2020, उत्तर प्रदेश कतिपय श्रम विधियों में अस्थाई छूट संशोधन विधेयक 2020 और लोक संपत्ति व निजी संपत्ति विधेयक 2020 को पास कराए जाने के विरोध में आज 23 अगस्त को वर्कर्स फ्रंट ने पूरे प्रदेश में विरोध प्रदर्शन आयोजित किया।

यह जानकारी देते हुए वर्कर्स फ्रंट के प्रदेश अध्यक्ष दिनकर कपूर ने बताया कि प्रदेश के प्रमुख औद्योगिक केंद्र सोनभद्र जनपद में अनपरा व ओबरा तापीय परियोजना, हिंडालको, रेणुकूट, आगरा, मऊ, बाराबंकी, फिरोजाबाद, लखनऊ समेत प्रदेश के विभिन्न जनपदों व औद्योगिक प्रतिष्ठानों में विरोध प्रदर्शन आयोजित किया गया।

उन्होंने कहा आरएसए-भाजपा की योगी सरकार कारपोरेट की सरकार है। इस सरकार ने श्रम कानूनों में जो संशोधन किया है यह उत्तर प्रदेश में औद्योगिक विकास को अवरुद्ध करने का काम करेगा और प्रदेश में औद्योगिक अशांति को बढ़ावा देगा।

उन्होंने कहा कि मजदूर संगठन ही नहीं, देश के कुछ एक उद्योगपतियों तक ने सरकार को आगाह किया था कि श्रमिकों के हित में बने हुए कानूनों को खत्म करने से देश में औद्योगिक विकास में बाधा उत्पन्न होगी। दुनिया में जहाँ भी श्रम कानूनों को कमजोर किया गया है, वहाँ बडे़ नुकसान उठाने पड़े हैं।

उन्होंने कहा कि इन विधेयकों के बाद दरअसल उत्तर प्रदेश में सेफ्टी वाल्व के बतौर काम कर रहे श्रम विभाग को जो न्यूनतम अधिकार हासिल थे, वह भी समाप्त कर दिए गए हैं और मजदूरों के हितों पर बड़ा कुठाराघात किया गया है। योगी सरकार ने हाईकोर्ट में हारने के बाद इन विधेयकों को लाने का फैसला किया है। इसकी वैधानिकता की जांच कराई जाएगी और यदि आवश्यकता पड़ी तो उन्हें हाईकोर्ट में चुनौती दी जाएगी।

उन्होंने सभी मजदूर संगठनों से अपील की कि वह एकजुट हों और आरएसएस और भाजपा की योगी सरकार की इस मजदूर विरोधी गतिविधियों के खिलाफ अपना प्रतिवाद दर्ज करायें। वर्कर्स फ्रंट द्वारा आयोजित विरोध कार्यक्रमों का नेतृत्व सोनभद्र में कृपाशंकर पनिका, ठेका मजदूर यूनियन के मंत्री तेजधारी गुप्ता, तीरथ राज यादव, पूर्व सभासद नौशाद, पूर्व सभासद मारी, आगरा में इंजीनियर दुर्गा प्रसाद, लखनऊ में मोहम्मद कय्यूम, नेवाजी, बाराबंकी में यादवेंद्र प्रताप सिंह और मऊ में बुनकर वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष इकबाल अंसारी ने किया।

Next Story

विविध

Share it