राष्ट्रीय

उन्नाव में भाजपा नेताओं की दिखीं बगावती लीलायें, टिकट कटने के बाद भी आरोपी अरूण सिंह के लिए प्रचार कर रहे MP-MLA

Janjwar Desk
27 Jun 2021 10:54 AM GMT
उन्नाव में भाजपा नेताओं की दिखीं बगावती लीलायें, टिकट कटने के बाद भी आरोपी अरूण सिंह के लिए प्रचार कर रहे MP-MLA
x

टिकट कटने के बाद भी आरोपी अरूण सिंह के पक्ष में प्रचार करते सांसद साक्षी महाराज और विधायक.

पीड़िता की आपत्ति के बाद बवाल ने और तूल पकड़ा तो अरूण सिंह का टिकट काटकर पूर्व एमएलसी अजीत सिंह की पत्नी शकुन सिंह को उम्मीदवार बनाया गया। पर खेल देखिए की स्थानीय सांसद साक्षी महाराज और विधायक खुलकर अरुण सिंह के साथ हैं...

जनज्वार, उन्नाव। उत्तर प्रदेश में चल रहे जिला पंचायत के बीच तमाम धमाचौकड़ी की खबरें आ रही हैं। कहीं सत्ता का बलप्रयोग तो कहीं प्रत्याशियों को नजरबंद कर देने तथा पीटने की घटनाएं भी सामने आ रही हैं। इन सबके बीच उन्नाव से भी बड़ी अंधेर की खबरें भी मिल रही हैं।

उन्नाव ज़िला परिषद अध्यक्ष के लिए भारतीय जनता पार्टी ने पहले उन्नाव कांड के आरोपी अरुण सिंह को टिकट दिया था। अरूण सिंह को टिकट मिला तो खूब बवाल मचा। यहां तक की रेप पीड़िता ने पीएम मोदी, सीएम योगी और राष्ट्रपति तक को पत्र लिखकर अरूण सिंह को टिकट दिये जाने पर आपत्ति जताई थी।


पीड़िता की आपत्ति के बाद बवाल ने और तूल पकड़ा तो अरूण सिंह का टिकट काटकर पूर्व एमएलसी अजीत सिंह की पत्नी शकुन सिंह को उम्मीदवार बनाया गया। पर खेल देखिए की स्थानीय सांसद साक्षी महाराज और विधायक खुलकर अरुण सिंह के साथ हैं। टिकट शकुन सिंह को दिया गया है लेकिन समर्थन अरुण सिंह को किया जा रहा है। ग़ज़ब लीलाएं चल रही हैं।

गौरतलब है कि गुरूवार 24 जून को भाजपा की तरफ से उन्नाव गैंगरेप कांड के आरोपी व कुलदीप सेंगर के खासमखास अरूण सिंह को जिला पंचायत का उम्मीदवार बनाया गया था। जिसके तत्काल बाद गैंगरेप पीड़िता ने पत्र लिखकर एक वीडियो सोशल मीडिया पर जारी किया था। जिसके बाद मीडिया में खबरें छपी।


मीडिया में छपते ही उन्नाव में सनसनी फैल गई। आनन-फानन में 24 जून गुरूवार को ही अरूण सिंह का टिकट काटकर पूर्व एमएलसी अजीत सिंह की पत्नी शकुन सिंह को जिला पंचायत का प्रत्याशी बना दिया गया था। लेकिन टिकट काटे जाने के बाद पता लग रहा है कि अरूण सिंह पार्टी से बगावत पर उतर आए हैं।

जिसके बाद उन्नाव सांसद साक्षी महाराज सहित भाजपा विधायक लगातार अरूण सिंह के पक्ष में प्रचार करते नजर आ रहे हैं। यह दोनो माननीय अगर प्रचार कर रहे हैं तो क्या यह माना जाना चाहिए की अरूण सिंह कल को निर्दलीय तौर पर जिला पंचायत का चुनाव लड़ेंगें। यह बड़ा सवाल बना हुआ है।

Next Story

विविध

Share it