Top
राष्ट्रीय

सुशांत राजपूत की आत्महत्या के लिए कंगना ने ठहराया बॉलीवुड की रैकेटिंग को जिम्मेदार, कहा हत्या है यह

Janjwar Desk
15 Jun 2020 12:48 PM GMT
सुशांत राजपूत की आत्महत्या के लिए कंगना ने ठहराया बॉलीवुड की रैकेटिंग को जिम्मेदार, कहा हत्या है यह
x
कंगना रनौत ने कहा रनौत 'सुशांत सिंह राजपूत अपने कई आखिरी इंटरव्यू में कह चुके थे कि फिल्म इंडस्ट्री उन्हें अपना नहीं रही है जबकि वो लगातार अच्छी फिल्में कर रहे थे। सुशांत की पहली फिल्म को फिल्म इंडस्ट्री के लोगों ने इज्जत नहीं दी।

जनज्वार ब्यूरो। बॉलीवुड अभिनेता शुशांत सिंह राजपूत की खुदकुशी को लेकर बॉलीवुड की अभिनेत्री कंगना रनौत खुलकर बोलीं हैं। रनौत ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल पर एक वीडियो पोस्ट किया है जिसमें उन्होंने उन सभी लोगों को आड़े हाथों लिया जो इस खुदकुशी के मामले को कायरता भरा कदम बता रहे हैं और आत्महत्या को नशे आदि से जोड़कर देख रहे हैं।

कंगना रनौत ने यहां तक कहा कि यह कोई खुदकुशी का मामला नहीं बल्कि एक मर्डर है। रनौत कहती हैं, 'सुशांत सिंह राजपूत अपने कई आखिरी इंटरव्यू में कह चुके थे कि फिल्म इंडस्ट्री उन्हें अपना नहीं रही है जबकि वो लगातार अच्छी फिल्में कर रहे थे। सुशांत की पहली फिल्म काय पो चे को फिल्म इंडस्ट्री के लोगों ने इज्जत नहीं दी। इसके बाद केदारनाथ, महेंद्र सिंह धोनी : द अनटोल्ड स्टोरी या छिछोरे फिल्म को भी वैसा सम्मान नहीं दिया गया जैसा मिलना चाहिए था जबकि 'गली बॉय' जैसी वाहियात फिल्म को इतने सारे अवॉर्ड दिए गए।

रनौत कहती हैं, 'सुशांत सिंह राजपूत की मौत ने हम सबको झकझोर कर रख दिया है मगर कुछ लोग इस काम में माहिर हैं कि कैसे प्लान रैकेट चलाना है। वो इस तरह से चला रहे हैं कि जिनका दिमाग कमजोर होता है, डिप्रेशन में रहते हैं, सुसाइड करते हैं। जो बंदा स्टैंडफोर्ड यूनिवर्सिटी में इंजीनियरिंग के एंट्रेंस में रैंक होल्डर है, उसका दिमाग कैसे कमजोर हो सकते है। तो क्या इस हादसे में यह बुनियाद नहीं है।'

उन्होंने आगे कहा, 'अगर आप देखें उनके कुछ आखिरी पोस्ट देखें तो वह स्पष्ट लोगों को कह रहे हैं कि मेरी कोई फिल्म देखो, मेरा इस इंटस्ट्री में कोई गॉडफादर नहीं है। मुझे निकाल दिया जाएगा इस इंटस्ट्री से। मैं अकेला महसूस कर रहा हूं। अपने इंटरव्यू में वह कह रहे हैं कि यह इंडस्ट्री मुझे क्यों नहीं अपना रही है। उनको केदारनाथ, एमएस धोनी और छिछोरे जैसी फिल्म को कोई अवॉर्ड नहीं दिया गया। वहीं गली बॉय जैसी वाहियात फिल्म को अवॉर्ड दिए जाते हैं।'

'मैं खुद जिन फिल्मों की डायरेक्ट करती हूं, उन सुपरहिट फिल्मों को फ्लॉप घोषित कर दिया जाता है। मुझपे छह केस क्यों डाले गए? क्यों मुझे जेल में डालने की कोशिश की गई? मुझे इनके जो चमचे जर्नलिस्ट हैं वो सुशांत सिंह जैसे लोगों पर ब्लाइंड आर्टिकल लिखते हैं कि वो साइकोटिक, न्यूरोटिक, एडिक्ट है, संजय दत्त के एडिक्शन की बात आपको क्यों क्यूट लगती है। वो लोग मुझे मैसेज करते हैं कि तुम्हारा बहुत कठिन समय है, ऐसे वैसे कदम मत उठा लेना। क्यों मेरे दिमाग में वह डालना चाहते हैं कि आप खुदकुशी कर लीजिए। ये खुदकुशी नहीं प्लान मर्डर था।'

Next Story

विविध

Share it