दिल्ली

दिल्ली की बीएड छात्रा ने फेसबुक से हुई पहचान वाले युवक से तंग होकर की आत्महत्या

Janjwar Desk
20 Oct 2020 2:22 PM GMT
दिल्ली की बीएड छात्रा ने फेसबुक से हुई पहचान वाले युवक से तंग होकर की आत्महत्या
x

मृतक छात्रा नाजिश का फाइल फोटो।

23 वर्षीया छात्रा नाजिश आइपी यूनिवर्सिटी में बीएड द्वितीय वर्ष की पढाई कर रही थी। लोनी निवासी हाजी सलमान उसे लगातार पीछा कर रहा था और यहां तक उसके घर पर भी आ धमका था। लड़की के सुसाइड नोट में लिखा है कि उसके सुसाइड के लिए हाजी सलमान जिम्मेवार है...

जनज्वार। दिल्ली के भजपुरा इलाके की रहने वाली एक छात्रा ने एक युवक के द्वारा पीछा किए जाने, झूठी बातें फैलाए जाने और घर पर आ धमकने से परेशान होकर आत्महत्या कर ली। छात्रा का एक सुसाइड नोट मिला है, जिसमें उसने गाजियाबाद के लोनी के एक युवक को दोषी बताया है और उसे कड़ी से कड़ी सजा देने की बात कही है।

23 वर्षीया छात्रा नाजिश आइपी यूनिवर्सिटी में बीएड द्वितीय वर्ष की पढाई कर रही थी। लोनी निवासी हाजी सलमान उसे लगातार पीछा कर रहा था और यहां तक उसके घर पर भी आ धमका था। लड़की के सुसाइड नोट में लिखा है कि उसके सुसाइड के लिए हाजी सलमान जिम्मेवार है, जिसने झूठी बात बोलकर उसके मां-बाप को बदनाम किया। लड़की ने लिखा है कि उसकी आत्महत्या के लिए उसके परिवार को लोग जिम्मेवार नहीं हैं। लड़की ने अपने इस कदम के लिए अपने माता-पिता से माफी मांगी है। लड़का नौ अक्तूबर को नाजिश के घर पर आ धमका था।


लड़के के पीछा करने, झूठे आरोपों व घर पर आ धमकने से परेशान होकर नाजिश ने 12 अक्तूबर को आत्महत्या का प्रयास किया था। इसके बाद परिवार वाले उसे अस्पताल ले गए और भर्ती कराया, लेकिन आखिरकार उसकी मौत हो गई। मंगलवार को लड़की का पोस्टमार्टम हुआ है, जिसकी रिपोर्ट का इंतजार है। पुलिस ने लड़की के घर पर छानबीन की तो सुसाइड नोट मिला है।

लड़का जब नाजिश के घर पर आया था तब लोगों ने उसकी पिटाई भी की थी। उसके बाद आरोपी वहां से भाग गया था, हालांकि इस घटना के बाद लड़की अधिक परेशान रहने लगी और उसे यह भय था कि वह बदले में कुछ अधिक गलत न करे। पुलिस के अनुसार, हाजी सलमान व नाजिश दोनों एक दूसरे को फेसबुक के माध्यम से जानते थे। पुलिस ने इस मामले में हत्या के लिए उकसाने की प्राथमिकी हाजी सलमान पर दर्ज की है और मौत की विभिन्न एंगल से जांच कर रही है।

Next Story
Share it