Top
दिल्ली

कोविड के खिलाफ लड़ाई में फ्रंट लाइन वारियर हैं आशा वर्कर, प्रदर्शन करने पर दिल्ली पुलिस ने दर्ज किया एफआइआर

Janjwar Desk
13 Aug 2020 4:22 AM GMT
कोविड के खिलाफ लड़ाई में फ्रंट लाइन वारियर हैं आशा वर्कर, प्रदर्शन करने पर दिल्ली पुलिस ने दर्ज किया एफआइआर
x
आशा वर्कर कोरोना महामारी के खिलाफ फ्रंट लाइन पर लड़ने वाली सबसे पहली वर्कर हैं। उनके द्वारा संबंधित व्यक्ति की पहचान व जांच किए जाने के बाद ही मामला अस्पतालों व डाॅक्टरों तक पहुंचता है...

जनज्वार। दिल्ली पुलिस ने जंतर-मतंर पर अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन करने वाली आशा कार्यकर्ताओं व सेंट्रल ट्रेड यूनियन पर एफआइआर दर्ज कर लिया है। दिल्ली पुलिस ने यह एफआइआर कोरोना महामारी के दौरान अनलाॅक नियमों का उल्लंघन करने के आरोप में दर्ज किया है। रविवार (9th August 2020) को दिल्ली में जंतर-मंतर पर आशा वर्कर अपनी मांगों को लेकर विरोध जताने जुटी थीं।

मालूम हो कि आशा वर्कर कोरोना महामारी के खिलाफ फ्रंट लाइन वारियर्स हैं। देश के अलग-अलग हिस्सों से पिछले पांच महीने से कोरोना से लड़ाई में उनकी चुनौतियों की खबरें लगातार आती रही हैं। प्राथमिक तौर पर गांव, देहात से लेकर शहरी क्षेत्रों में वे कोविड मरीजों की पहचान के लिए बिना पर्याप्त साधनों के काम करती हैं। अधिकतर इलाकों में वे पीपीइ किट तक नहीं उपलब्ध है। प्रवासियों की वापसी पर प्राथमिक सूचना देना व उनकी पहचान करने का जिम्मा उन्हीं पर था।

नई दिल्ली के डीसीपी ने इस संबंध में ट्विटर पर लिखा है कि अनधिकृत रूप से आशा वर्करर्स व सेंट्रल ट्रेड यूनियन द्वारा जंतर पर जुटान करने और अनलाॅक के गाइडलाइन का उल्लंघन करने के मामले में उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। उन्होंने कहा कि जंतर-मंतर पर इस समय विरोध प्रदर्शन पूरी तरह प्रतिबंधित है। उन्होंने कहा कि ऐसे जुटान से कोविद19 की स्थिति और खराब हो सकती है।

दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने कहा है कि अनलाॅक तीन के गाइडलाइन का आशा कार्यकर्ताओं ने उल्लंघन किया है। पुलिस के अनुसार, विरोध जताने करीब 100 लोग जुटे थे, जिसमें अधिकतर महिलाएं थीं। पुलिस के अनुसार, उन्हें प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं मिली थी। पुलिस का कहना है कि महिलाओं ने सोशल डिस्टेंशिग के नियमों का पालन नहीं किया।

दिल्ली पुलिस के इश सिंघल अनधिकृत रूप से आशा कार्यकर्ताओं के इकट्ठा होने के लेकर एफआइआर दर्ज की गयी है। सिंघल नई दिल्ली के डिप्टी पुलिस कमिश्नर भी हैं। उन्होंने लोगों से अनलाॅक गाइडलाइन फाॅलो करने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा है कि ऐसा नहीं करने पर संबंधित लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Next Story

विविध

Share it