राष्ट्रीय

पिता के अंतिम संस्कार की चल रही थी तैयारी, रोते-रोते बेटे ने बिजली के खंभे का सहारा लिया तो हुई मौत, परिवार में कोहराम

Janjwar Desk
25 July 2021 9:36 AM GMT
पिता के अंतिम संस्कार की चल रही थी तैयारी, रोते-रोते बेटे ने बिजली के खंभे का सहारा लिया तो हुई मौत, परिवार में कोहराम
x

(परिवार के दो दो सदस्य़ों की मौत के बाद महिलाओं का रो-रोकर बुरा हाल है)

पिता मोहन महतो का शव घर लाया गया और परिजन अंतिम संस्कार की तैयारी कर ही रहे थे कि रोते-रोते रंजन सड़क किनारे एक बिजली के खंभे पर चिपक गया.....

जनज्वार डेस्क। बिहार के दरभंगा से एक दुखद खबर सामने आ रही है जहां एक परिवार में बीमार पिता की मौत के बाद गम का माहौल था। पिता के अंतिम संस्कार की तैयारी चल ही रही थी कि तभी रोते-रोते उनके इकलौते बेटे ने बिजली के खंभे का सहारा लिया और उसकी भी मौत हो गई। घर में एक साथ दो-दो लाश देखकर कोहराम मच गया। परिवार की महिलाओं का रो-रोकर बुरा हाल है। वहीं सूचना मिलने के बाद पुलिस घटना स्थल पर पहुंची और जांच कर रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यह मामला ललित नारायण मिथिला यूनिवर्सिटी थाना क्षेत्र के आजमनगर मोहल्ले का है। 18 साल के रंजन के पिता काफी दिनों से बीमार थे। मोहन महतों की अस्पताल में उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई।

पिता मोहन महतो का शव घर लाया गया और परिजन अंतिम संस्कार की तैयारी कर ही रहे थे कि रोते-रोते रंजन सड़क किनारे एक बिजली के खंभे पर चिपक गया। करंट लगने से रंजन की मौत हो गयी। इसके बाद गांव के लोग रंजन को अस्पताल ले गए लेकिन उसे भी डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

परिवार के दो दो सदस्य़ों की मौत के बाद महिलाओं का रो-रोकर बुरा हाल है। पुलिस की टीम ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।

Next Story

विविध

Share it