राष्ट्रीय

Journalist Murder In Saharanpur: सहारनपुर में भरी दोपहर कार सवार बदमाशों ने पत्रकार को पीट-पीटकर मार डाला

Janjwar Desk
27 Jan 2022 3:20 AM GMT
NCRB Report : प्रेम संबंध की वजह से उत्तर प्रदेश और गुजरात में सबसे अधिक हत्याएं, अवैध रिश्ते के कारण महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा मर्डर
x

NCRB Report : प्रेम संबंध की वजह से उत्तर प्रदेश और गुजरात में सबसे अधिक हत्याएं, अवैध रिश्ते के कारण महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा मर्डर

Journalist Murder In Saharanpur: पत्रकारिता के लिहाज से भारत और खासकर उत्तर प्रदेश पहले से ही सवालों के घेरे में रहा है। ऐसे में सहारनपुर में फिर से एक पत्रकार की निर्मम तरीके से पीट-पीटकर हत्या कर दी गई...

Journalist Murder In Saharanpur: पत्रकारिता के लिहाज से भारत और खासकर उत्तर प्रदेश पहले से ही सवालों के घेरे में रहा है। ऐसे में सहारनपुर में फिर से एक पत्रकार की निर्मम तरीके से पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। बताया जा रहा कि यहां कुछ मनबढ़ कार सवार दबंगों ने महज साइड लगने पर पत्रकार की बेरहमी (Journalist Murder) से पिटाई कर मौत के घाट उतार दिया। इतना ही नहीं हत्या के बाद शव को छुपाने की नीयत से पानी से भरें एक गड्ढे में फेंक दिया।

जानकारी के मुताबिक चिलकाना थाना क्षेत्र के मोहल्ला गढ़ी निवासी 28 वर्षीय सुधीर सैनी (Sudhir Saini) पुत्र तेलूराम मुजफ्फरनगर से प्रकाशित शाह टाइम्स अखबार में काम करता थे। 26 जनवरी की दोपहर करीब 12 बजे वह बाइक से सहारनपुर आये था। करीब डेढ़ बजे बाइक द्वारा ही सहारनपुर से वापस चिलकाना लौट रहे था।

जिस समय वह देहात कोतवाली क्षेत्र के गांव धतौली के पास पहुंचे तो अचानक पीछे से आए कार सवार चार से पांच दबंगो ने उनकी बाइक को ओवरटेक करके रोक लिया। पहले उनके साथ गाली-गलौज की और फिर दिनदहाड़े मारना शुरू कर दिया। वहां से गुजर रहे लोगों ने भी उन्हे नहीं बचाया।

पत्रकार के सिर, सीने और पेट में गंभीर चोटें आई है। जब युवक बेहोश हो गया तो कार सवार युवकों ने उसे सड़क किनारे एक गड्ढे में फेंक दिया। गड्ढे में पानी भरा होने के कारण सुधीर सैनी डूब गए। पत्रकार सुधीर सैनी की इस बेरहमी से हुई हत्या को लेकर पत्रकार संगठनों में आक्रोश का माहौल है।

सहारनपुर में पत्रकार सुधीर सैनी की निर्मम हत्या की घटना पर कानपुर जर्नलिस्ट क्लब के महामंत्री अभय त्रिपाठी ने घटना की कड़ी निंदा करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और डीजीपी मुकुल गोयल से हत्यारों की अविलंब गिरफ्तारी एवं दिवंगत पत्रकार के परिजनों के 20 लाख मुआवजा की मांग की है।

गौरतलब है कि सहारनपुर में यह कोई पहला मामला नहीं है जब किसी पत्रकार को इस कदर बेरहमी से मौत के घाट उतारा गया हो। इससे पहले अगस्त 2019 को भी शहर के माधव नगर निवासी पत्रकार आशीष और उसके भाई आशुतोष की 18 अगस्त को सुबह गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने मौके से कारतूस के खोखे बरामद किए थे। पुलिस ने हत्या के आरोप में महिपाल, सूरज और सन्नी को गिरफ्तार किया था।

Next Story

विविध