राष्ट्रीय

Raj Thackeray के खिलाफ औरंगाबाद में केस दर्ज, 16 में 12 शर्तों का किया उल्लंघन, DGP बोले - 'किसी को नहीं छोड़ेंगे'

Janjwar Desk
3 May 2022 10:30 AM GMT
Raj Thackeray के खिलाफ औरंगाबाद में केस दर्ज, 16 में 12 शर्तों का किया उल्लंघन, DGP बोले - किसी को नहीं छोड़ेंगे
x

Raj Thackeray के खिलाफ औरंगाबाद में केस दर्ज, 16 में 12 शर्तों का किया उल्लंघन, DGP बोले - 'किसी को नहीं छोड़ेंगे'

Maharashtra News : शर्तों के उल्लंघन के आरोप में औरंगाबाद पुलिस ने राज ठाकरे के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज किया है। पुलिस का दावा है कि एमएनएस प्रमुख ने 16 में से 12 शर्तों का उल्लंघन किया है।

Maharashtra News : दो दिन पहले महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ( MNS ) के प्रमुख राज ठाकरे ( Raj Thackeray ) ने औरंगाबाद ( Aurangabad Rally ) में मेगा रैली की थी। इस रैली का आयोजन करने के लिए एमएनएस ( MNS ) को 16 शर्तों के साथ इजाजत दी थी। इन शर्तों के उल्लंघन के आरोप में औरंगाबाद पुलिस ( Aurangabad Police ) ने राज ठाकरे के खिलाफ पुलिस ने केस ( FIR ) दर्ज किया है। पुलिस का दावा है कि एमएनएस प्रमुख ( MNS Raj Thackeray ) ने 16 में से 12 शर्तों का उल्लंघन किया है।

औरंगाबाद पुलिस ( Aurangabad Police ) ने कहा कि हाल ही में महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे ( Raj Thackeray ) के खिलाफ औरंगाबाद सभा में 12 शर्तों का उल्लंधन करने पर कार्रवाई की गई हैं। राज ठाकरे समेत आयोजकों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। औरंगाबाद पुलिस ने सभा से पहले 16 शर्तें लगाई थीं। औरंगाबाद पुलिस ने पाया है कि उनमें से 12 का उल्लंधन किया गया। पुलिस ने कहा है कि औरंगाबाद रैली से पहले चेतावनी दी गई थी कि अगर नियमों का पालन नहीं किया गया तो पुलिस कार्रवाई करेगी।

अब इस मामले में मनसे प्रमुख राज ठाकरे ( Raj Thackeray ) को आरोपी नंबर एक यानि की मुख्य आरोपी बनाया गया है। राज ठाकरे पर धारा 116, 117, और 153 के तहत मामला दर्ज किया गया है। इनमें दो समूह में झगड़ा लगाना, धमकी देना और पुलिस के नियमों और शर्तों का उल्लंघन करना शामिल है। ये सभी गेर जमानती अपराध हैं।

गिरफ्तारी की लटकी तलवार

Maharashtra News : ऐसे मामलों में केवल अदालत ही जमानत दे सकती हैं। इसलिए कयास लगाए जा रहे हैं कि राज ठाकरे को गिरफ्तार किया जा सकता है। राज ठाकरे के खिलाफ मामला दर्ज होने के मुद्दे पर शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि राज्य अल्टीमेटम पर नहीं चलता, ये सिस्टम सक्षम है, नेतृत्व सक्षम है, अगर कोई इस राज्य को अस्थिर करने की कोशिश कर रहा है तो वह सबसे बड़ी गलती कर रहा है।

बता दें कि 1 मई को औरंगाबाद में एमएनएस प्रमुख राज ठाकरे ने मेगा रैली की थी। रैली को इजाजत देने के लिए उद्धव ठाकरे सरकार ने 16 शर्तें लगाई थी। अपनी जांच में पुलिस ने पाया है कि इनमें 12 शर्तों का राज ठाकरे और आयोजकों ने उल्लंघन किया। उन्हीं मामलों के तहत औरंगाबाद पुलिस ने कार्रवाई की है। वहीं डीजीपी ने कहा है कि नियमों को उल्लंघन करने वाला चाहे कोई भी क्यों न उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। महाराष्ट्र की डीजीपी ने ये भी संकेत दिया है कि उन्हें गिरफ्तार भी किया जा सकता है।

Next Story

विविध