Top
राष्ट्रीय

सुशांत के घर पर 13 जून को नहीं हुई कोई पार्टी - मुम्बई पुलिस प्रमुख

Janjwar Desk
3 Aug 2020 10:55 AM GMT
सुशांत के घर पर 13 जून को नहीं हुई कोई पार्टी - मुम्बई पुलिस प्रमुख
x
मुम्बई पुलिस प्रमुख ने कहा कि हमारे पास 13 और 14 जून की सीसीटीवी फुटेज है, उस दिन उस घर में कोई पार्टी नहीं हुई थी....

मुम्बई। सभी अटकलों पर विराल लगाते हुए मुम्बई के पुलिस आयुक्त परम बीर सिंह ने सोमवार को कहा कि मरहूम सुशांत सिंह राजपूत के घर पर 13 जून को कोई पार्टी नहीं हुई थी। इसके एक दिन बाद 14 जून को सुशांत के कथित तौर पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। परम बीर सिंह ने कहा, 'हमारे पास 13 और 14 जून की सीसीटीवी फुटेज है। उस दिन उस घर में कोई पार्टी नहीं हुई थी।'

सिंह ने आगे कहा कि 'मुम्बई पुलिस इस मामले की गम्भीरता से जांच कर रही है। हमने हर एक कोण खंगाल रहे हैं। हमने इस सिलसिले में सुशांत के परिजनों, दोस्तों, डॉक्टर एवं अन्य लोगों के बयान लिए हैं। इसके अलावा हमने सुशांत के बैंक खातों से ट्रांजेक्शन को भी खंगाला है।'

यह पूछे जाने पर कि जैसा कि सोशल मीडिया पर काफी जोर-शोर है कि इस मामले में महाराष्ट्र की कोई बड़ी राजनीतिक हस्ती शामिल लगती है, इस पर सिंह ने कहा कि अब तक की जांच से ऐसा कोई तथ्य सामने नहीं आया है।

एक अन्य सवाल के जवाब में सिंह ने कहा कि अपनी पूर्व मैनेजर दिशा सालियान के निधन के बाद "सुशांत मानसिक रूप से अपसेट थे।" और वह पांच-छह डाक्टरों के सम्पर्क में थे।

सिंह ने यहां संवाददाताओं से कहा, 'जब सुशांत ने दिशा की मौत के मामले में सोशल मीडिया पर अपना नाम भी शामिल देखा तो वह भावनात्मक रूप से काफी परेशान हो गए थे। वह दिशा से सिर्फ एक बार मिले थे और एक बार उन्होंने अपने वकील से पूछा था कि वह कौन है।'

सिंह ने कहा कि सुशांत सोशल मीडिया पर अपनी छवि को लेकर काफी कांसस थे।

पुलिस प्रमुख ने खास तौर पर उन आरोपों का खंडन किया कि 14 जून को मुम्बई पुलिस ने बैंड्रा स्थित उनके फ्लैट को सील नहीं किया था।

सिंह ने कहा, 'फ्लैट 14 जून को सील कर दिया गया था। 15 जून को फोरेंसिक टीमें और डॉक्टर वहां गए थे और जांच का काम पूरा किया था। इसी के बाद फ्लैट को अनसील किया गया था।'

सुशांत के बैंक खातों के बारे में उन्होंने कहा कि जांच से पता चला है कि उनके पास डिपॉजिट के तौर पर 4.5 करोड़ रुपये थे लेकिन खातों की जांच से ऐसा कुछ भी सामने नहीं आया कि उनके खाते से रिया चक्रवर्ती के खाते में पौसे ट्रांसफर किए गए हैं।

सिंह ने कहा, "हमने अब तक 56 लोगों के बयान दर्ज किए हैं। इसमें सुशांत के परिजन भी शामिल हैं। साथ ही डॉक्टरों, दोस्तों, उनके मौजूदा और पूर्व चार्टर्ड एकाउंटेट, बैंक अधिकारियोंके बयान शामिल हैं। जांच अभी भी जारी है।"

सुशांत के पिता केके सिंह द्वारा पटना में मुकदमा दायर करने और सुशांत के बैंक खातों से जुड़ा मामला ईडी द्वारा अपने हाथ में लिए जाने के सवाल पर सिंह ने कहा कि "मुम्बई पुलिस इस मामले की गम्भीरता से जांच कर रही है। हम जांच में पूरी तरह पेशेवर रवैया अपना रहे हैं। हम हर कोण से मामले की जांच कर रहे हैं।"

Next Story
Share it