Top
राष्ट्रीय

प्रधानमंत्री मोदी की मन की बात, बताया पाकिस्तान से क्यों हुआ था कारगिल युद्ध

Janjwar Desk
26 July 2020 6:02 AM GMT
प्रधानमंत्री मोदी की मन की बात, बताया पाकिस्तान से क्यों हुआ था कारगिल युद्ध
x
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात में कारगिल युद्ध की पृष्ठभूमि का जिक्र किया और कहा कि पाकिस्तान ने धोखा दिया था। उन्होंने कहा कि उस वक्त उन्हें भी कारगिल जाने और वीर सैनिकों का दर्शन करने का मौका मिला था...

जनज्वार। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अपने मासिक कार्यक्रम मन की बात में कारगिल विजय दिवस का उल्लेख किया। 1999 में 26 जुलाई को ही कारगिल युद्ध ेविजय का एलान हुआ था। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पाकिस्तान ने हमारी पीठ में छूरा घोपा था, कारगिल युद्ध जिन परिस्थितियों में हुआ था, वो भारत कभी नहीं भूल सकता है। पाकिस्तान ने बड़े-बड़े मंसूबे पालकर भारत की भूमि हथियाने और अपने यहां चल रहे आंतरिक कलह से ध्यान भटकाने के दुस्साहस किया था।

उन्होंने इस इस संबंध में तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के वक्तव्य को याद किया। उन्होंने कहा कि अटल जी ने देश को गांधी जी का मंत्र याद दिलाया था, कभी किसी को दुविधा हो कि क्या करना है, क्या नहीं करना है तो उस व्यक्ति को भारत के सबसे गरीब व असहाय व्यक्ति के बारे में सोचना चाहिए। पीएम मोदी ने कहा कि अटल जी न गांधी जी के इस मंत्र को आगे बढाया था और कहा था कोई निर्णय लेने से पहले हम यह सोचें कि क्या यह उस सैनिक के सम्मान के अनुरूप है, जिसने दुर्गम पहाड़ियों में अपनी जान गंवाई।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आप कल्पना कर सकते हैं, ऊचें पहाड़ों पर बैठा हुआ दुश्मन और नीचे से लड़ रही हमारी सेना, फिर भी हमारे वीर जवान विजयी हुए। जीत पहाड़ की ऊँचाई की नहीं, भारत की सेनाओं के ऊँचे हौंसले और सच्ची वीरता की हुई।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उस समय उन्हें भी कारगिल जाने और जवानों की वीरता का दर्शन का सौभाग्य मिला। उन्होंने कहा कि वे वह दिन उनके जीवन के सबसे अनमोल क्षणों में से एक है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि राष्ट्र सर्वाेपरि का मंत्र लिए एकता के सूत्र में बंधे देशवासी हमारे सैनिकों की ताकत को कई गुणा बढा देते हैं। उन्होंने कहा कि आज देश भारगिल विजय को याद कर रहा है और वीरों को नमन कर रहा है, जो शहीद हुए उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं। उन्होंने लोगों से अपील की कि अधिक से अधिक लोगों को वे कारगिल युद्ध व विजय की जानकारी दें।

Next Story

विविध

Share it