Top
राष्ट्रीय

आत्ममुग्ध मोदी सरकार ने विश्व स्तर पर देश की डुबोई लुटिया, अमेरिका-ऑस्ट्रेलिया समेत 11 देशों ने यात्रा पर लगाया प्रतिबंध

Janjwar Desk
2 May 2021 2:50 AM GMT
आत्ममुग्ध मोदी सरकार ने विश्व स्तर पर देश की डुबोई लुटिया, अमेरिका-ऑस्ट्रेलिया समेत 11 देशों ने यात्रा पर लगाया प्रतिबंध
x
इससे पहले नीदरलैंड, कनाडा, ब्रिटेन, सऊदी अरब, न्यूजीलैंड, कुवैत, ओमान, जर्मनी, हांगकांग, सिंगापुर और ईरान जैसे एक दर्जन देशों ने भारत से आने जाने वाली उड़ानों पर पहले से ही रोक लगा रखी है। इसके अलावा इस्राइल समेत कई देशों ने अपने यात्रियों के लिए भारत की यात्रा न करने करने के लिए एडवाइजरी जारी की है...

जनज्वार ब्यूरो, नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक निजी टीवी न्यूज चैनल के कार्यक्रम में एक दफा कहा था कि वह ऐसे भारत का निर्माण करेंगे जहां अमेरिका भी लाईन में खड़ा रहेगा वीजा पाने के लिए। यह वाक्या तब का है जब मोदी की अमेरिका यात्रा को बैन कर दिया गया था। लेकिन अब भारत के जो हालात हैं उसके बाद अब तक 11 देशों के बाद आस्ट्रेलिया ने भी भारत से उड़ान पर पाबंदी लगा दी है।

इण्डिया में कोरोना संक्रमण के मामलों में बेतहाशा बढ़ोतरी जारी है। इसे देखते हुए अब ऑस्ट्रेलिया ने भारत से आने वाले यात्रियों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है। नियमों का उल्लंघन करने वालों को जेल भेजा जाएगा। जेल भेजने के अलावा जुर्माना भी लगाया जाएगा। अधिकारियों ने बताया कि लगातार कोरोना मरीजों और कोविड से होने वाली मौतों में बढ़ोतरी को देखते हुए भारतीय पर्यटक और भारत में रह रहे ऑस्ट्रेलियाई नागरिक जो यहां लौटना चाहते हैं, उनके ऑस्ट्रेलिया में प्रवेश करने पर पाबंदी लगा दी गई है।

उन्होंने बताया कि यह शुक्रवार 30 अप्रैल को लगाए गए यात्रा प्रतिबंधों का ही हिस्सा है। बता दें कि आस्ट्रेलियाई सरकार ने शुक्रवार को भारत से आने जाने वाली सभी उड़ानों को 15 मई, 2021 तक के लिए स्थगित कर दिया था। ऑस्ट्रेलिया की वजह से लगाए गए इस ताजा प्रतिबंध के बाद कई नागरिक और बड़े क्रिकेट खिलाड़ी भारत में फंस गए हैं। ऑस्ट्रेलियाई स्वास्थ्य मंत्री ग्रेग हंट ने बताया कि नए प्रतिबंध तीन मई से प्रभावी होंगे। उन्होंने कहा कि इन प्रतिबंधों का उल्लंघन करने वालों को पांच साल की जेल और भारी जुर्माना भरना होगा।

भारत में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए अमेरिका ने 4 मई से भारत से आवाजाही पर पूरी तरह रोक लगा दी है। अमेरिकी सरकार ने सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रीवेंशन की सिफारिश पर ये फैसला लिया है। व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव जेन साकी ने बताया कि भारत में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ने और कई तरह के वेरिएंट पाए जाने के बाद ये फैसला लिया गया है।

बता दें कि इससे पहले नीदरलैंड, कनाडा, ब्रिटेन, सऊदी अरब, न्यूजीलैंड, कुवैत, ओमान, जर्मनी, हांगकांग, सिंगापुर और ईरान जैसे एक दर्जन देशों ने भारत से आने जाने वाली उड़ानों पर पहले से ही रोक लगा रखी है। इसके अलावा इस्राइल समेत कई देशों ने अपने यात्रियों के लिए भारत की यात्रा न करने करने के लिए एडवाइजरी जारी की है।

ऑस्ट्रेलियाई मीडिया के मुताबिक़, ये इतिहास में पहली बार है जब अपने ही देश लौटने को ऑस्ट्रेलिया में आपराधिक बनाया गया है। ऑस्ट्रेलिया के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि 'क्वारंटीन में मौजूद उन लोगों के अनुपात को देखते हुए जिन्हें कोविड-19 का संक्रमण भारत से हुआ है' ये फ़ैसला लिया गया है। भारत में लगभग नौ हज़ार ऑस्ट्रेलियाई रहते हैं। जिनमें से 600 लोगों को असुरक्षित श्रेणी में रखा गया है।

Next Story

विविध

Share it