राष्ट्रीय

Uttar Pradesh Crime News : तीन तलाक देने के बाद पत्नी को दोबारा घर लाने के लिए डाला जेठ संग हलाला करने का दबाव, इनकार करने पर पति ने फेंका तेजाब

Janjwar Desk
29 Jun 2022 2:00 PM GMT
Uttar Pradesh Crime News : दहेज न मिलने पर पति ने भाईयों संग मिलकर किया पत्नी से गैंगरेप, फिर दिया तीन तलाक
x

Uttar Pradesh Crime News : दहेज न मिलने पर पति ने भाईयों संग मिलकर किया पत्नी से गैंगरेप, फिर दिया तीन तलाक

Uttar Pradesh Crime News : जेठ से हलाला करने से इनकार करने पर एक व्यक्ति ने अपने ससुराल जाकर पत्नी पर कथित तौर पर तेजाब फेंक दिया, जिससे उसका चेहरा बुरी तरह झुलस गया है...

Uttar Pradesh Crime News : उत्तर प्रदेश के बरेली से हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है। जेठ से हलाला करने से इनकार करने पर एक व्यक्ति ने अपने ससुराल जाकर पत्नी पर कथित तौर पर तेजाब फेंक दिया, जिससे उसका चेहरा बुरी तरह झुलस गया है। पुलिस ने आरोपी को मंगलवार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। वहीं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज का कहना है कि तेजाब से 30 वर्षीय महिला नसरीन बुरी तरह झुलस गई। उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

एक महीने पहले पत्नी को दिया था तीन तलाक

इस मामले में पुलिस का कहना है कि आरोपी इशाक (34) ने करीब 1 महीने पहले अपनी पत्नी नसरीन को तीन तलाक दिया था। वह अपनी पत्नी को दोबारा करना चाहता था, जिसके लिए उसने अपने बड़े भाई को हलाला के लिए राजी किया था। बता दें कि हलाला एक ऐसी व्यवस्था है जिसमें तलाकशुदा महिला को अपने पति के साथ दोबारा रहने के लिए पहले एक अन्य व्यक्ति से निकाह करना पड़ता है और फिर उससे तलाक लेना पड़ता है। दूसरे पति से तलाक मिलने के बाद भी वह महिला पहले पति से दोबारा निकाह कर सकती है।

हलाला से किया इनकार तो फेंका तेजाब

पीड़िता को देखने जिला अस्पताल पहुंचे एसएसपी ने कहा कि महिला के उचित इलाज के लिए व्यवस्था की गई है। पुलिस को दी गई शिकायत के अनुसार तीन तलाक देने के बाद आरोपी पति अपनी पत्नी को दोबारा घर लाने के लिए अपने बड़े भाई पर हलाला का दबाव बना रहा था लेकिन आरोपी की पत्नी हलाला से इंकार कर रही थी। शिकायत के अनुसार महिला का कहना था कि वह अकेले जिंदगी गुजार लेगी लेकिन और दुख नहीं सहेगी।

पुलिस में दर्ज नहीं कराई थी शिकायत

पुलिस को दी शिकायत में पीड़िता ने कहा कि उसका घर न टूटे इसलिए उसने तीन तलाक का मामला दर्ज नहीं कराया। महिला ने बताया कि उसके पति ने इस बात को उसकी कमजोरी समझ लिया और संदेश भेजा कि वह उसे फिर से पत्नी के रूप में स्वीकार करना चाहता है। पीड़िता ने बताया कि 11 साल पहले उसकी शादी बरेली के मलुकपुर निवासी इशाक के साथ हुई थी और उनकी दो बेटियां हैं।

Next Story