Top
उत्तर प्रदेश

लखनऊ में हनी ट्रैप गिरोह का खुलासा, डाॅक्टर से दोस्ती कर बनाया अश्लील वीडियो, फिर मांगे 30 लाख

Janjwar Desk
11 Dec 2020 4:57 AM GMT
लखनऊ में हनी ट्रैप गिरोह का खुलासा, डाॅक्टर से दोस्ती कर बनाया अश्लील वीडियो, फिर मांगे 30 लाख
x

हनी ट्रैप गिरोह के सदस्य सचिन रावत व कहकशां के साथ घटना की जानकारी देतीं पुलिस अधिकारी।

पुलिस ने गिरोह के दो सदस्यों को गिरफ्तार किया है और पांच अभी फरार हैं। इस हनी ट्रैप गिरोह ने अबतक करीब 30 लोगों को अपना शिकार बनाया है...

जनज्वार। उत्तरप्रदेश की राजधानी लखनऊ में हनी ट्रेड के एक ऐसे रैकेट का पुलिस ने पर्दाफाश किया है, जिसमें एक गिरोह लड़कियों के जरिए अच्छे प्रोफेशनल लोगों को फांसता था फिर उनका अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल कर मोटी राशि की वसूली करता था। इस गिरोह का खुलासा तब हुआ जब इस गिरोह का शिकार एक डाॅक्टर बन गया।

लखनऊ के एक डेंटिस्ट उनके दोस्तों ने कुछ दिन पहले तबस्सुम फातिमा उर्फ देवांशी उर्फ सना नाम की एक लड़की से मिलवाया। यह मुलाकात दोस्ती में बदल गई और दोनों एक-दूसरे को फोन करने लगे और मेल-मुलाकात का दौर शुरू हुआ।

तबस्सुम उर्फ देवांशी ने एक दिसंबर को डाॅक्टर को सुशांत गोल्फ सिटी स्थित ओमैक्स अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर 1302 में बुलाया। लड़की ने डाॅक्टर से कहा कि उसके साथ उसकी बहन नीशू उर्फ कहाकशां भी है और वह उससे भी उनकी मुलाकात करा देगी। डाॅक्टर लड़की के झांसे में आकर ओमैक्स अपार्टमेंट के फ्लैट में पहुंच गए। वहां पहले दोनों लड़कियों के अलावा पांच और लोग मौजूद थे। फिर उस डाॅक्टर को बंधक बना लिया गया और फिर उन्हें नशीला पदार्थ पिला कर कहांकशा के साथ अश्लील वीडियो बना लिया।

इस दौरान डाॅक्टर की जेब से 30 हजार रुपये व एटीएम कार्ड निकाल लिए, जिसका गलत पिन बताने पर पिटाई भी की। अश्लील वीडियो बनाने के बाद हनी ट्रैप गिरोह डाॅक्टर से 30 लाख की मांग करने लगा और पुलिस को सूचना देने पर बच्चे को जान से मारने की धमकी दी।

घटना के अगले दिन दो दिसंबर को गिरोह के दबाव में डाॅक्टर ने अपने एक अन्य डाॅक्टर दोस्त से आरोपियों को देने के लिए दो लाख रुपये मांगे। दोस्त डाॅक्टर ने उन्हें टेढी पुलिस स्थित अपने क्लिनिक पर बुलाया। शाम के सात बजे कि डेंटिस्ट की कार से डाॅक्टर व गिरोह के लोग डेढी पुलिया पहुंचे। अपराधियों ने कार को दोस्त डाॅक्टर की क्लिनिक से कुछ पहले रोक कर पैसे लाने को कहा। इस दौरान डेंटिस्ट भागने में कामयाब रहा। इसके बाद उन्होंने अपने दोस्त के साथ जाकर विकासनगर थाने में पुलिस को पूरी घटना की जानकारी दी। इस मामले में लिखित शिकायत दर्ज करायी गई। इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है और डाॅक्टर की कार भी बरामद की गई है।

पुलिस ने गिरोह के दो लोगों सचिन रावत व शीनू उर्फ कहकशां को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि पांच लोग सना उर्फ तबस्सुम फातिमा, आदिल, बलराम वर्मा, प्रवेश जायसवाल व नजर अब्बास फरार हैं। सना गिरोह में शामिल आदिल की पत्नी है।

Next Story

विविध

Share it