Top
उत्तर प्रदेश

UP : जनता ने BJP नेता की चप्पलों से पिटाई, कई दिनों से कर रहा था लड़की का पीछा

Janjwar Desk
10 Sep 2020 7:30 AM GMT
UP : जनता ने BJP नेता की चप्पलों से पिटाई, कई दिनों से कर रहा था लड़की का पीछा
x
यूपी के कानपुर में एक भाजपा नेता को लड़की का पीछा करना भारी पड़ गया। भाजपा नेता पर आरोप है कि एक महीने से युवती का पीछा करते हुए दोस्ती का दबाव बना रहा था। युवती ने यह बात जब अपने परिजनों को बताई तो आरोपी नेता की परिजनों ने जमकर पिटाई कर दी। पिटाई के बाद उसे पुलिस को सौंप दिया गया।

जनज्वार | यूपी के कानपुर में एक भाजपा नेता को लड़की का पीछा करना भारी पड़ गया। भाजपा नेता पर आरोप है कि एक महीने से युवती का पीछा करते हुए दोस्ती का दबाव बना रहा था। युवती ने यह बात जब अपने परिजनों को बताई तो आरोपी नेता की परिजनों ने जमकर पिटाई कर दी। पिटाई के बाद उसे पुलिस को सौंप दिया गया।

आरोपी मनीष पांडेय गोविंदनगर विधानसभा सीट के कल्याणपुर से बीजेपी सेक्टर अध्यक्ष बताया जा रहा है। परिजनों के मुताबिक वह एक महीने से युवती का पीछा कर रहा था। बुधवार को युवती ने अपने परिजनों के साथ मिलकर बीजेपी नेता मनीष पांडेय की जूते-चप्पल व लात-घूंसों से जमकर पिटाई कर दी।



पिटाई के बाद परिजनों ने उसे पुलिस के हवाले कर दिया है। आरोप है कि मनीष पांडेय राह चलते युवती से दोस्ती करने का दबाव बना रहा था। युवती ने यह बात अपने परिजनों को बताई। इसके बाद परिजनों ने मनीष को दबोचने की योजना बनाई थी। युवती के परिजनों ने मनीष को रंगे हाथ पकड़ने के लिए प्लान बनाया। पीड़ित युवती ने आरोपी नेता मनीष को मिलने के लिए बुलाया था।

जैसे ही मनीष पहुंचा तो पूरे परिवार ने लात-घूंसों चप्पलों से पीटना शुरू कर दिया। पीड़ित परिवार ने इसके बाद पुलिस कंट्रोल रूम को मामले की सूचना दी और पुलिस के हवाले कर दिया। बीजेपी नेता मनीष पांडेय की पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है। वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि मनीष बाइक पर बैठा था। इसी दौरान हरे रंग का कुर्ता और जींस पहने एक शख्स ने बाइक से धक्का देकर गिरा दिया और मनीष को पीटना शुरू कर दिया।



इस बीच दो महिलाएं आईं और जूते-चप्पल से पीटना शुरू कर दिया। किसी शख्स ने वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। आरोपी मनीष पांडेय ने बताया, 'लड़की से मिलने के लिए गया था। मेरी एक महीने से बातचीत हो रही थी। आज मिलने के लिए गया बुलाया था और मेरे साथ यह सब हो गया। पता नहीं किसी ने भड़का दिया या फिर किसी के कहने पर मेरे साथ इस तरह का बर्ताव किया गया।'

मामले में कल्याणपुर इंस्पेटर अजय सेठ का कहना है कि अभी तक किसी पक्ष से कोई तहरीर नही मिली है। यदि किसी तरह की तहरीर मिलती है तो विधिक कार्रवाई की जाएगी।

Next Story

विविध

Share it