Top
उत्तर प्रदेश

कन्नौज में कोरोना पीड़ित भाजपा विधायक के भाई की मौत की गुत्थी उलझी, आत्महत्या या दुर्घटना पर बना सस्पेंस

Janjwar Desk
5 Sep 2020 3:27 PM GMT
कन्नौज में कोरोना पीड़ित भाजपा विधायक के भाई की मौत की गुत्थी उलझी, आत्महत्या या दुर्घटना पर बना सस्पेंस
x
पुलिस मामले को दुर्घटना बता रही है, हालांकि वह दोनों बिंदुओं पर जांच की जा रही है। वहीं लोग सीधे तौर पर इसे आत्महत्या बता रहे हैं...

जनज्वार। उत्तरप्रदेश के कन्नौज स्थित तिर्वा से भाजपा विधायक के भाई की अस्पताल में मौत हो गई। बताया जा रहा है कि भाजपा विधायक का भाई कोरोना संक्रमित था। कहा जा रहा है कि इसी अस्पताल की खिड़की से गिरकर विधायक भाई की मौत हो गई। यह घटना शुक्रवार 4 सितंबर दोपहर ढाई से तीन बजे के बीच की है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सिर में चोंट और पसलियां टूटने से मौत की पुष्टी हुई है।

तिर्वा से भाजपा विधायक कैलाश राजपूत के 48 वर्षीय भाई संजय राजपूत पुत्र नरोत्तम की बीती 25 अगस्त को आई रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव थी। जिसके बाद उसे छिबरामउ स्थित घर गढ़िया आवास में उन्हें आईसोलेट कर दिया गया था। लेकिन शुक्रवार को तबीयत खराब होने की बात सामने आने पर विधायक ने उन्हें तिर्वा मेडिकल काॅलेज में भर्ती कराया था। जहाँ लगभग ढ़ाई बजे दोपहर विधायक भाई हाथ में एक झोला लेकर संदिग्ध स्थिति में खिड़की से गिरे पाए गए। उन्हें वहां दूसरी मंजिल के प्राइवेट वार्ड में रखा गया था।

कहा यह भी जा रहा है भाजपा विधायक के भाई उस अस्पताल में परिवार से दूर भर्ती होने के लिए मना कर रहे थे। जिसके चलते उन्होंने काफी हंगामा भी किया। बावजूद इसके भाजपा विधायक के भाई ने संजय राजपूत को अस्पताल में भर्ती करवा दिया। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक संजय के भाई ने इसी बात से क्षुब्ध होकर खिड़की से कूदकर सुसाईड कर लिया।

हालांकि इसके अलावा लोगों के बीच यह भी चर्चा उठ रही है कि है कि उन्होंने कोरोना के डर से कूद कर आत्महत्या कर ली। कोरोना से डर और फिर आत्महत्या कर लेने का यह कोई पहला वाकया नहीं है जब किसी व्यक्ति ने कोरोना संक्रमण की डर से अस्पताल में आत्महत्या की हो। दिल्ली, रांची, उत्तर प्रदेश, झारखण्ड सहित देश के विभिन्न शहरों-राज्यों से पिछले पांच महीने से इस तरह की खबरें देखने सुनने में आ रही हैं।

हालांकि तिर्वा सीओ दीपक दुबे ने जनज्वार को बताया कि पूछताछ में पैर फिसलने से खिड़की से गिरने के कारण मौत होने की बात सामने आ रही है। हादसा और आत्महत्या दोनों बिंदुओं पर जांच चल रही है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा दिया गया है। तिर्वा विधायक कैलाश राजपूत ने बताया कि झोला उठाते समय संजय का संतुलन बिगड़ गया, इससे वह खिड़की से गिर गए। जिसके बाद उनकी मौत हो गई।

वहीं चीफ मेडिकल सर्जन डॉक्टर दिलीप सिंह ने भी यही बताया कि पैर फिसलने से संजय खिड़की से गिर गए थे। डीएम राकेश कुमार मिश्रा और एसपी अमरेंद्र प्रसाद सिंह ने भी मौके पर पहुंचकर घटना की जानकारी ली है।

Next Story

विविध

Share it