Top
राजनीति

अब DDCA मानहानि केस में कुमार विश्वास ने भी मांगी अरुण जेटली से माफी

Janjwar Team
28 May 2018 3:17 PM GMT
अब DDCA मानहानि केस में कुमार विश्वास ने भी मांगी अरुण जेटली से माफी
x

कहा अरविंद केजरीवाल के कहने पर ही दोहराई थी अन्य कार्यकर्ताओं और प्रवक्ताओं की बात...

जनज्वार। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और अन्य नेताओं के बाद अब कवि और आम आदमी पार्टी के नेता कुमार विश्वास ने भी भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली से DDCA मानहानि मामले में पत्र लिखकर माफी मांग ली है, जिसके बाद जेटली ने उन पर से मुकदमा वापस ले लिया है।

कुमार विश्‍वास ने अरुण जेटली को पत्र लिखकर खेद जताया कि आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल के कहने पर मुझ समेत पार्टी के अन्य कार्यकर्ताओं और प्रवक्ताओं ने उनकी बात दोहराई थी और अब अरविंद केजरीवाल हमारे सम्पर्क में नहीं हैं। केजरीवाल झूठ बोलकर खुद गायब हो गए हैं। विश्वास ने पत्र में आगे लिखा है कि अरविंद आदतन झूठे हैं और पार्टी कार्यकर्ता होने के नाते मैंने सिर्फ़ अरविंद की बात दुहराई थी।

गौरतलब है कि DDCA मानहानि मामले में अरुण जेटली से अरविंद केजरीवाल समेत अन्य सभी अभियुक्तों द्वारा माफ़ी मांग लिए जाने के बाद कुमार विश्वास बिल्कुल अकेले पड़ गए थे। अपने माफीनामे में कुमार विश्वास ने स्पष्ट किया कि अरविंद केजरीवाल ने मुझे, पार्टी कार्यकर्ताओं और देश की जनता को धोखे में रखकर कुछ तथाकथित सबूतों का हवाला देते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली पर आरोप लगाए थे।

केन्द्रीय मंत्री अरुण जेटली ने डीजीसीए केस में दस करोड़ रुपए की मानहानि का केस दर्ज किया था। पिछले दिनों अरविंद केजरीवाल समेत अन्य सभी नामजद आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं ने अरुण जेटली को माफीनामा पेश किया था, जिसके बाद अरुण जेटली ने उनके ख़िलाफ़ केस वापस ले लिया था।

डीजीसीए केस में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के अलावा आशुतोष, संजय सिंह, राधव चड्ढा और दीपक वाजपेयी पर केस दर्ज था, लेकिन सभी ने संयुक्त आवेदन देकर अरुण जेटली से माफी मांगी थी, जिसे कोर्ट ने मंजूर करते हुए जेटली से शिकायत वापस लेने की इजाजत दे दी थी। पिछले महीने 1 अप्रैल को केजरीवाल व अन्य ने केंद्रीय मंत्री जेटली से माफी मांगी थी, जिसके बाद उन्हें इस केस से राहत मिली थी और अब कुमार विश्वास ने भी माफीनामा देकर खुद को इस मामले से मुक्त कर लिया है।

गौरतलब है कि जब केजरीवाल ने मजीठिया से माफी मांगी थी तब कुमार ने इसकी आलोचना करते हुए कहा था, पंजाब में मजीठिया के खिलाफ लाखों पर्चे बांटे गए और इसके बाद आपने (अरविंद केजरीवाल) अचानक माफी मांग ली। अरुण जेटली आपकी माफी को स्‍वीकार कर लेंगे, लेकिन उन पार्टी कार्यकर्ताओं का क्‍या, जिनके खिलाफ मामले दर्ज किए गए हैं। मेरा निवेदन है कि पार्टी को अपनी लीगल सेल को सक्र‍िय कर देना चाहिए और 11000 पार्टी कार्यकर्ताओं के खिलाफ मामले सबसे पहले खत्‍म होना चाहिए।

Next Story

विविध

Share it