Top
राजनीति

100 करोड़ की वसूली के आरोपों पर शिवसेना और एनसीपी आमने-सामने, BJP बोलीं सचिव वझे का नार्को टेस्ट करवाओ

Janjwar Desk
21 March 2021 7:08 AM GMT
100 करोड़ की वसूली के आरोपों पर शिवसेना और एनसीपी आमने-सामने, BJP बोलीं सचिव वझे का नार्को टेस्ट करवाओ
x
परमबीर सिंह ने राज्य के गृहमंत्री अनिल देशमुख पर 100 करोड़ की अवैध वसूली का आरोप लगाया है। परमबीर ने राज्य के सीएम उद्वव ठाकरे को 8 पन्नों का पत्र लिखकर देशमुख पर गंभ्भीर आरोप लगाए हैं।

जनज्वार डेस्क। बॉलीवुड की फिल्मों में पुलिस द्वारा रिश्वत लेते और वसूली करते हुए तो आप दर्शकों ने अक्सर देखा होगा लेकिन देश की दुर्दशा यह है कि ऐसे मामले हकीकत में भी तब्दील हो रहे हैं। महाराष्ट्र पुलिस के पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी पर 100 करोड़ की अवैध वसूली के आरोप लगाए हैं।

परमबीर सिंह ने राज्य के गृहमंत्री अनिल देशमुख पर 100 करोड़ की अवैध वसूली का आरोप लगाया है। परमबीर ने राज्य के सीएम उद्वव ठाकरे को 8 पन्नों का पत्र लिखकर देशमुख पर गंभ्भीर आरोप लगाए हैं। आरोपों के तहत बार, रेस्तरां, स्पा सेंटर आदि जगहों से 100 करोड़ की वसूली का टारगेट देने की बात कही गई है। पत्र में परमबीर सिंह ने आरोप लगाया है कि एंटीलिया केस में सस्‍पेंड किए गए एनकाउंटर स्‍पेशलिस्‍ट सचिन वझे को अनिल देशमुख ने हर महीने 100 करोड़ रुपये कलेक्‍ट करने के लिए कहा था।

इस पूरे प्रकरण पर देशमुख अपनी सफाई मे यह कहते हुए नजर आ रहे हैं कि परमबीर सिंह अपने आप को सचिन वझे मामले में कानूनी कार्यवाही से बचाना चाहते हैं। गौरतलब हो कि इस पूरे मामले पर बीजेपी ने महाराष्‍ट्र सरकार पर निशाना साधा है।

बीजेपी के वरिष्‍ठ नेता किरीट सौमैया ने कहा कि मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्‍नर ने कहा है कि मुंबई में जबरन वसूली चल रही थी और सचिन वझे गृहमंत्री के एजेंट थे। बीयर बार और अन्‍य जगहों से पैसे वसूले जा रहे थे। अनिल देशमुख को अब पद पर बने रहने का कोई अधिकार नहीं है। उन्‍हें पद से हटा देना चाहिए और साथ ही उद्वव ठाकरे को भी अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।

महाराष्ट्र की राजनीति में इतनी खींचतान के बाद शिवसेना और एनसीपी आमने-सामने आ गई हैं। उद्वव ठाकरे ने इस पूरे मामले पर चर्चा की बात भी कही है। वहीं दूसरी ओर शिवसेना के राज्यसभा सांसद जो अक्सर विवादों के दौरान ऐसी शायरियां लिखकर अपना दर्द-ए-दिल बंया करते रहते हैं। इस मामले पर संजय राउत लिखते हैं, "हमको तो बस तलाश नए रास्‍तों की है, हम हैं मुसाफिर ऐसे जो मंजिल से आए हैं।"

वहीं महाराष्ट्र के भाजपा वरिष्ठ नेता राम कदम ने ट्वीट कर सचिन वझे का नार्को टेस्ट कराने की मांग की है। इसके साथ ही राम कदम ने वझे की गिरफ्तारी के मामले में उद्धव सरकार पर निशाना साधा है।

वझे की गिरफ्तारी पर राम कदम ने रविवार को अपने ट्वीट पर लिखा "आखिरकार सचिन वाजे को एनआईए ने गिरफ्तार कर ही दिया, क्या अब सचिन वाजे को बचाने का कुकर्म करने वाली शिवसेना की सरकार देश की माफी मांगते हुए सचिन वाजे की नार्को टेस्ट करेगी ? हमारी मांग है सचिन वाजेकी नार्को टेस्ट की जाय। ताकि पत्ता चले महाराष्ट्र सरकार उसे बचाना क्यों चाहती थी?"

राम कदम ने आगे लिखा "ऐसे किंन नामों को महाराष्ट्र सरकार बचाना चाहती हैं? नार्को टेस्ट की जाए ताकि शिवसेना का तथा महाराष्ट्र सरकार असली चेहरा लोगों के सामने आए।"

Next Story

विविध

Share it