राजनीति

President Election: जिस अटल-आडवाणी ने इमरजेंसी के खिलाफ बुलंद की थी आवाज, आज उन्हीं की पार्टी ने लगा रखा है अघोषित आपातकाल, यशवंत सिन्हा ने बीजेपी पर कसा तंज

Janjwar Desk
9 July 2022 8:33 AM GMT
Yashwant Sinha News : मोदी सरकार पर यशवंत सिन्हा का वार, कहा- केंद्र सरकार कर रही है सरकारी एजेंसियों का दुरुपयोग
x

Yashwant Sinha News : मोदी सरकार पर यशवंत सिन्हा का वार, कहा- केंद्र सरकार कर रही है सरकारी एजेंसियों का दुरुपयोग

President Election: पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने कहा, 'यह लड़ाई अब बहुत बड़ी लड़ाई में बदल गई है। यह लड़ाई इस बारे में है कि क्या वह (द्रौपदी मुर्मू) राष्ट्रपति बनने के बाद संविधान को बचाने के लिए अपने अधिकारों का उपयोग करेंगी।

President Election 2022: भारतीय जनता पार्टी पर विपक्ष की ओर से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार और पूर्व केन्द्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने एक बार फिर निशाना साधा है। एनडीए की ओर से घोषित राष्ट्रीय पद की उमीदवार द्रौपदी मुर्मू को यशवंत सिन्हा ने 'रबर स्टाम्प' कैंडिडेट करार दिया है। यशवंत सिन्हा ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि देश में अघोषित आपातकाल लगा हुआ है और संस्थानों को कमज़ोर किया गया है।

शुक्रवार को दौरे पर थे यशवंत सिन्हा

दरअसल यशवंत सिन्हा शुक्रवार को दौरे पर थे और इसी दौरान उन्होंने कांग्रेस के नेताओं और विधायकों से मुलाकात की और अपने लिए समर्थन मांगा। पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने कहा, 'यह लड़ाई अब बहुत बड़ी लड़ाई में बदल गई है। यह लड़ाई इस बारे में है कि क्या वह (द्रौपदी मुर्मू) राष्ट्रपति बनने के बाद संविधान को बचाने के लिए अपने अधिकारों का उपयोग करेंगी। यह स्पष्ट है कि एक 'रबर स्टाम्प' राष्ट्रपति ऐसा करने की कोशिश कभी नहीं करेगा।'

यशवंत सिन्हा खुद बीजेपी के नेता रह चुके हैं

बता दें यशवंत सिन्हा खुद बीजेपी के नेता रह चुके हैं। सिन्हा ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा, 'आज प्रेस सहित संवैधानिक मूल्य और लोकतांत्रिक संस्थान खतरे में हैं। देश में इस समय अघोषित आपातकाल है। लालकृष्ण आडवाणी और अटल बिहारी वाजपेयी ने कभी (1975 और 1977 के बीच) आपातकाल के खिलाफ लड़ाई लड़ी और उसके लिए जेल भी गए। लेकिन आज उनकी ही पार्टी (भाजपा) ने देश में आपातकाल लगा दिया है। यह विडंबना है।'

एनडीए के अलावा कई दलों ने किया समर्थन देने का ऐलान

बता दें द्रौपदी मुर्मू आदिवासी समाज से आती हैं और झारखण्ड की राज्यपाल भी रह चुकी हैं। उन्हें एनडीए की ओर से राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया गया है। राष्ट्रपति चुनाव में उनकी जीत तय भी मानी जा रही क्योंकि एनडीए के अलावा कई दलों ने उन्हें समर्थन देने का ऐलान किया है।

Next Story

विविध