Top
राजनीति

मोदी सरकार का बजट किसान विरोधी, जनविरोधी और देश विरोधी : ममता बनर्जी

Janjwar Desk
1 Feb 2021 1:25 PM GMT
मोदी सरकार का बजट किसान विरोधी, जनविरोधी और देश विरोधी : ममता बनर्जी
x
बजट से आवश्यक वस्तुओं की कीमतें बढ़ेंगी, सभी पेट्रोलियम उत्पादों पर लगाए गए कृषि उपकर से मूल्य वृद्धि होगी, केंद्र सभी उपकरों को ले लेता है, राज्य सरकारों को इसका कोई हिस्सा नहीं मिलता है....

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा संसद में पेश किए गए केंद्रीय बजट की आलोचना करते हुए कहा कि यह देशभर के किसानों और गरीब लोगों को प्रभावित करेगा।

उन्होंने कहा कि 'यह किसान विरोधी, जन विरोधी और देश विरोधी बजट है।' बनर्जी ने उत्तर बंगाल के सिलिगुड़ी में एक पुल का वर्चुअल उद्घाटन करने के बाद कहा, "यह बजट देश के किसानों और गरीब लोगों के पक्ष में नहीं है। यह किस तरह का बजट है? यह एक फर्जी बजट है।"

उन्होंने कहा कि 'बजट से आवश्यक वस्तुओं की कीमतें बढ़ेंगी। सभी पेट्रोलियम उत्पादों पर लगाए गए कृषि उपकर से मूल्य वृद्धि होगी। केंद्र सभी उपकरों को ले लेता है। राज्य सरकारों को इसका कोई हिस्सा नहीं मिलता है।"

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) को एक प्रतिशोधी सरकार करार दिया। केंद्रीय बजट में 95,000 करोड़ रुपये की लागत से पश्चिम बंगाल में 675 किलोमीटर लंबी सड़क के विकास का भी उल्लेख किया गया है।

उन्होंने कहा कि केंद्र चुनाव से पहले सड़क बनाना चाहता है। उन्होंने कहा, "जाओ और किसानों को यह पैसा दो। ग्रामीण सड़कों को बनाने की जरूरत नहीं है, मैं इसे खुद बनवाऊंगी।"

उन्होंने कहा, "हमने पहले ही उत्तर बंगाल में सड़कें बना ली हैं। वे कोलकाता-सिलीगुड़ी सड़क का क्या करेंगे? आपने असम में एक हवाई अड्डा बनाया है, आप कूचबिहार हवाई अड्डे को चालू क्यों नहीं कर सकते? यदि आप ऐसा नहीं करेंगे, तो मैं ये करुंगी।"

पश्चिम बंगाल के वित्त मंत्री अमित मित्रा ने कहा कि बजट में स्पष्टता और दूरदर्शिता नहीं है। बजट से बहुत सारी उम्मीदें थीं, लेकिन यह उन्हें पूरा करने में विफल रहा है।

Next Story

विविध

Share it