राजनीति

UP Election 2022 Result : BJP - BSP के मेल से UP में हुआ बड़ा खेल, ओम प्रकाश राजभर ने किया सबूत पेश करने का दावा

Janjwar Desk
15 March 2022 5:53 AM GMT
Omprakash Rajbhar News : BJP में शामिल होने की अटकलों पर ओमप्रकाश राजभर ने तोड़ी चुप्पी, सपा के लिए कही ये बड़ी बात
x

(BJP में शामिल होने की अटकलों पर ओमप्रकाश राजभर ने तोड़ी चुप्पी)

UP Election 2022 Result : ओम प्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) ने एक बार फिर कहा है कि चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के बीच मिलीभगत थी, ओपी राजभर ने आरोप लगाया है कि पूर्वांचल की 122 सीटों पर भाजपा ने बसपा के लिए टिकट तय किए...

UP Election 2022 Result : सुहलदेव भारतीय समाज (सुभासपा) के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) ने एक बार फिर कहा है कि चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के बीच मिलीभगत थी| साथ ही ओपी राजभर ने आरोप लगाया है कि पूर्वांचल की 122 सीटों पर भाजपा ने बसपा के लिए टिकट तय किए| सपा गठबंधन के साथ इस चुनाव में 6 सीटें जीतने वाले सुभासपा प्रमुख ओम प्रकाश राजभर ने कहा है कि उनके पास सबूत भी है| साथ ही उन्होंने कांग्रेस पर भी भाजपा की मदद का आरोप लगाया है|

कहां गए पूर्व सत्ताधारी पार्टियों के वोट

बता दें कि ओम प्रकाश राजभर ने न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत करते हुए कहा है कि 'पूर्वांचल में 122 सीटें ऐसी हैं जिनपर बीजेपी दफ्तर में बैठकर प्रत्याशी तय किए गए और सिंबल बसपा के ऑफिस में दिए गए| मैं इसके लिए सबूत दे सकता हूं| जो पार्टियां 4 बार सत्ता में रहीं, चाहे वह बसपा हो या कांग्रेस, बीजेपी का समर्थन किया| उनके वोट कहां गए|'

विधानसभा वार समीक्षा करने का फैसला

आगे ओम प्रकाश राजभर ने कहा कि 'हमने विधानसभा वार समीक्षा करने का फैसला लिया है| कमिया बताने वाले रिपोर्ट्स के आधार पर हम उस पर काम करने की कोशिश करेंगे| दूसरी बात यह कि बसपा और भाजपा का मेल हो गया, जो यूपी में बड़ा खेल हो गया|' बता दें कि सुभसपा अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने उनकी सीट जहूराबाद में भी बसपा की ओर से प्रत्याशी बदले जाने के बाद आरोप लगाया था कि मायावती के पार्टी का टिकट भाजपा के पूर्व अध्यक्ष अमित शाह के कमरे में तय किया जाता है और सिंबल बसपा के दफ्तर में दिया जाता है|

चुनाव के दौरान ओपी राजभर ने किए थे कई बड़े दावे

बता दें कि 2017 में भाजपा के साथ चुनाव लड़कर योगी सरकार में मंत्री बने ओम प्रकाश राजभर ने बाद में अपनी रहें अलग कर लीं और इस बार के चुनाव में सपा संगठन के साथ चुनाव लड़ें हैं| ओपी राजभर ने चुनाव प्रचार के दौरान जीत को लेकर बड़े-बड़े दावे किए थे और यहां तक कह दिया था कि योगी आदित्यनाथ को भीख मांगने पर मजबूर कर देंगे| योगी को गोरखपुर और मोदी - शाह को गुजरात भेज देने की बात कही थी| हालांकि चुनावी नतीजे आने के बाद उन्होंने कहा कि पहले चरण से ही पता चल गया था कि सपा गठबंधन की हार होने जा रही है|

Next Story

विविध