Top
समाज

कंगना रनौत का Twitter अकाउंट सस्पेंड, ममता बनर्जी पर कर रहीं थी लगातार आपत्तिजनक टिप्पणियां

Janjwar Desk
4 May 2021 8:06 AM GMT
कंगना रनौत का Twitter अकाउंट सस्पेंड, ममता बनर्जी पर कर रहीं थी लगातार आपत्तिजनक टिप्पणियां
x
कंगना ने मंगलवार 4 मई 2021 की सुबह एक ट्वीट किया था जिसमें उन्होंने ममता बनर्जी की तुलना हिंदू पौराणिक ग्रंथों में वर्णित राक्षसी ताड़का से कर दी थी....

जनज्वार डेस्क। सोशल मीडिया पर अपनी विवादास्पद टिप्पणियों के चलते सुर्खियों में बनी रहने वाली फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड कर दिया गया है। माना जा रहा है कि कंगना के अकाउंट्स पर यह कार्रवाई तब हुई जब वह पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर सिलसिलेवार आपत्तिजनक टिप्पणियां कर रहीं थीं।

कंगना रनौत खुलेतौर पर बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की समर्थक हैं। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में बीजेपी की हार और तृणमूल कांग्रेस की जीत के बाद से कंगना ने कई अजीब बयान सोशल मीडिया पर पोस्ट किए हैं जिनके कारण वह बुरी तरह ट्रोल भी हुईं थीं।

कंगना ने मंगलवार 4 मई 2021 की सुबह एक ट्वीट किया था जिसमें उन्होंने ममता बनर्जी की तुलना हिंदू पौराणिक ग्रंथों में वर्णित राक्षसी ताड़का से कर दी थी। कंगना ने बंगाल में चुनाव नतीजों के बाद हुई हिंसा पर अपने ट्वीट में लिखा, 'मैं गलत थी। वह रावण नहीं है। रावण महान राजा था, उसने दुनिया का सबसे अमीर देश बनाया था, महान प्रशासक, ज्ञानी और वीणा बजाने वाला पूरी तरह सक्षम राजा था। मगर यह खून की प्यसी राक्षसी ताड़का है। जिन लोगों ने इन्हें वोट दिया तुम्हारे भी हाथ खून से रंगे हुए हैं।'


कंगना ने एक और ट्वीट भी किया है जिस पर लोग काफी आपत्ति जता रहे हैं। कंगना ने खुलेतौर पर प्रधानमंत्री नरेंद मोदी से पश्चिम बंगाल में 'सुपर गुंडई' करने की सलाह भी दी है। सबसे बड़ी बात इसमें कंगना ने मोदी से साल 2000 के शुरुआत वाला 'विराट स्वरूप' दिखाए जाने की मांग की है।


हालांकि यह पहली बार नहीं है जब कंगना रनौत के अकाउंट के खिलाफ आपत्तिजनक बयान के बाद कार्रवाई की गई हो। इससे पहले कंगना ने महाराष्ट्र की शिवसेना सरकार पर भी बयानबाजी कर चुकी हैं। कयास लगाए जा रहे हैं कि कंगना के इन बयानों के मद्देनजर, उनके इस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर एक्शन लिया गया है।

Next Story
Share it