सिक्योरिटी

भारत ने 43 और चीनी मोबाइल एप्स पर लगाई रोक, राष्ट्रीय सुरक्षा का दिया हवाला

Janjwar Desk
24 Nov 2020 2:32 PM GMT
भारत ने 43 और चीनी मोबाइल एप्स पर लगाई रोक, राष्ट्रीय सुरक्षा का दिया हवाला
x
सरकार ने इन एप्स के खिलाफ कई शिकायतें मिलने के बाद ये फैसला लिया है, शिकायतों के मुताबिक ये एप्स भारत की सुरक्षा और कानून-व्यवस्था के लिए खतरा पैदा कर सकते हैं, ऐसे में सरकार ने एहतियाती कदम उठाते हुए इन पर पाबंदी लगा दी है....

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने मंगलवार को चीन के 43 और मोबाइल एप्स पर प्रतिबंध लगा दिया है, जिनमें ई-कॉमर्स बेहेमोथ अलीबाबा के स्वामित्व वाली शॉपिंग वेबसाइट अली एक्सप्रेस भी शामिल है। जिन अन्य लोकप्रिय ऐप्स पर प्रतिबंध लगाया गया है, उनमें वीवर्कचाइना कैमकार्ड और स्नैक शामिल हैं।

इन एप्स को इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने उन गतिविधियों में संलग्न करने के लिए प्रतिबंधित किया है, जो देश की संप्रभुता, अखंडता और सुरक्षा के लिहाज से खतरा पैदा कर सकती हैं।

सरकार ने इन एप्स के खिलाफ कई शिकायतें मिलने के बाद ये फैसला लिया है। शिकायतों के मुताबिक, ये एप्स भारत की सुरक्षा और कानून-व्यवस्था के लिए खतरा पैदा कर सकते हैं। ऐसे में सरकार ने एहतियाती कदम उठाते हुए इन पर पाबंदी लगा दी है।

गृह मंत्रालय के भारतीय साइबर अपराध समन्वय केंद्र से प्राप्त रिपोर्टों के आधार पर इन एप्स पर प्रतिबंध लगाया गया है।

बता दें कि इससे पहले मोदी सरकार ने लद्दाख सीमा पर चीन से टकराव के हालात पैदा होने के बाद 29 जून 2020 को 59 और दो सितंबर 2020 को 118 चीनी मोबाइल एप्स पर प्रतिबंध लगाया था।

भारत सरकार ने 2 सितंबर को राष्ट्रीय सुरक्षा चिंताओं पर 118 एप्स पर प्रतिबंध लगा दिया था, जिसमें बेहद लोकप्रिय पबजी गेम, बायदू आदि एप्स शामिल थे।

जुलाई में सरकार ने देश में 47 चीनी एप्स को संचालित करने से रोक दिया था, जो काफी हद तक जून में प्रतिबंधित 59 एप्स के क्लोन थे। 29 जून को सरकार ने लोकप्रिय एप टिकटॉक, वीचैट, यूसी ब्राउजर सहित कुल 59 चीनी एप्स पर प्रतिबंध लगा दिया था।

Next Story

विविध

Share it