Top stories

Bihar News: दिन में कन्या पूजन और रात में बार बालाओं के ठुमके में लीन हुए भक्त

Janjwar Desk
16 Oct 2021 4:30 AM GMT
Bihar News: दिन में कन्या पूजन और रात में बार बालाओं के ठुमके में लीन हुए भक्त
x

PIC COURTSEY: Dainik Bhaskar

सूत्रों के मुताबिक, 70 हजार रुपए के कांट्रैक्ट पर इन बार बालाओं को बुलाया गया था... कांट्रैक्ट के तहत बार-बालाओं ने जमकर रात भर फूहड़ता का प्रदर्शन किया...

Bihar News(जनज्वार): दिन में श्रद्धा भक्ति और रात के अंधेरे में बार बालाओं के लटके झटके पर नोटों की बौछार करते मां दुर्गा के भक्त। नवरात्रि के पावन पर्व पर अश्लीलता की ये तस्वीर बिहार के गया जिले से आई है। यहां नवरात्रि के मौके पर बार बालाओं के डांस का कार्यक्रम आयोजित किया गया। हद तोतब हो गई जब अश्लील गानों के साथ साथ भक्ति के गानों पर भी बालाएं खूब थिड़कीं। मां के भजन पर बार-बालाओं ने अश्लीता से भरे लटके-झटके वाले डांस किए और युवाओं ने जमकर नोटों की बरसात की।

बिहार के गया में फल्गु नदी किनारे बसे मानपुर इलाका में दुर्गा पूजा हर साल भव्य तरीके से मनाया जाता है। पूजा लेकर एक युवाओं में खासा उत्साह देखने को मिलता है। इलाके के युवाओं के बीच बेहतर पूजा आयोजित करने को लेकर कॉम्पिटीशन भी होता रहा है। इलाके में सूढी टोला के शौण्डिक समाज की ओर से दुर्गा पूजा समिति के बैनर तले दिन में पूजा पाठ, कन्या पूजन, शाम में प्रसाद वितरण का कार्यक्रम हुआ। लेकिन, गुरुवार 14 अक्टूबर को नवरात्रि के नवमी के दिन पूजा और कन्या भोजन के बाद रात में फूहड़ता से भरा डिस्को डांस प्रोग्राम का आयोजन किया गया।

सूत्रों के मुताबिक, 70 हजार रुपए के कांट्रैक्ट पर इन बार बालाओं को बुलाया गया था। कांट्रैक्ट के तहत बार-बालाओं ने जमकर रात भर फूहड़ता का प्रदर्शन किया। इस दौरान मोहल्ले के युवाओं ने भी रात भर डांस की प्रस्तुति पर जोश में आकर खूब नोट उड़ाए।

आपको बता दें कि यह सारा कार्यक्रम कोरोना महामारी को लेकर जारी सख्त गाइडलाइन को ठेंगा दिखाते हुए किया गया। उससे भी खास बात है कि कोरोना महामारी के पहले फेज और दूसरी लहर में भी सबसे पहले यही इलाका संक्रमित हुआ था। कोरोना के दौरान पूरे मानपुर इलाके को सील कर दिया गया था। कोरोना की चपेट में मरने वाले लोगों की संख्या भी इस इलाके में कम नहीं है। बावजूद इसके मोहल्ले और दुर्गा पूजा समिति के लोगों ने कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां उड़ाते हुए रात भर डीजे पर बार बालाओं का डांस कराया।

हालांकि, इस दौरान नोटों की बरसात और वीडियो रिकार्डिंग पर सख्त पाबंदी थी। इस वजह से नोट उड़ाए जाने का वीडियो रिकॉर्ड नहीं हो सका। लेकिन डांस से जुड़े वीडियो बनाया गया। स्टेज पर गिरे नोट भ दर्शाते हैं कि बार बालाओं पर नौट भी बरसाए गए।

इधर मामले को लेकर शौण्डिक समाज के नेता और वार्ड पार्षद मनोज सूरी का कहना है कि डांस प्रोग्राम नहीं था, जागरण हुआ था। वह भी ज्यादा देर तक नहीं, सिर्फ दो घंटे तक ही चला था। लेकिन वीडियो अपने आप में इस बात की गवाही देता है कि माता का किस तरह से जाहरण हुआ।

Next Story

विविध