दुनिया

Imran Khan को उलटा पड़ा 'विदेशी साजिश' वाला दांव, अविश्वास प्रस्ताव पर पाकिस्तानी संसद में हाई वोल्टेज ड्रामा

Janjwar Desk
9 April 2022 9:06 AM GMT
Imran Khan को उलटा पड़ा विदेशी साजिश वाला दांव, अविश्वास प्रस्ताव पर पाकिस्तानी संसद में हाई वोल्टेज ड्रामा
x

Imran Khan को उलटा पड़ा 'विदेशी साजिश' वाला दांव, अविश्वास प्रस्ताव पर पाकिस्तानी संसद में हाई वोल्टेज ड्रामा

Imran Khan : पाकिस्तान की संसद में आज इमरान खान के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग होनी है, इससे पहले नेशनल असेंबली में हाईवोल्टेज ड्रामा देखने को मिला...

Imran Khan : पाकिस्तान में चल रही सियासी उठापठक अभी थमी नहीं है। प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) का विदेशी साजिश (Foreign Conspiracy) वाला कार्ड वाला बयान अब उन्हीं पर उलटा पड़ता हुआ नजर आ रहा है। आज पाकिस्तानी संसद में इमरान खान नहीं पहुंचे। हालांकि उनकी ओर विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी पहुंचे। कुरैशी ने कहा कि सरकार के पास इसकी जानकारी है कि कैसे विदेशी ताकतें हमारे यहां सत्ता परिवर्तन कराना चाह रही है। उन्होंने कहा कि हम इसको सबके सामने नहीं रख सकते, वरना इससे विदेश रिश्ते बिगड़ जाएंगे। वहीं पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के भाई व पीएमएल-एन के नेता शहबाज शरीब ने कड़ा ऐतराज जताते नेशनल असेंबली के स्पीकर से कहा कि आज सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर कार्रवाई हो। अगर विदेशी साजिश की बात होगी तो बात दूर तक जाएगी। हालांकि स्पीकर असर कैसर ने कहा कि विदेशी ताकतों की साजिश वाले मुद्दे पर भी चर्चा होनी चाहिए।

पाकिस्तानी संसद के निचले सदन नेशनल असेंबली (National Assembly) में आज का दिन काफी अहम माना जा रहा है जहां इमरान सरकार को बहुमत साबित करना है। दो दिन पहले पाकिस्तान (Pakistan) की सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court Of Pakistan) ने संसद में अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग का आदेश दिया था। आज सदन में इस प्रस्ताव पर चर्चा की शुरुआत शहबाज शरीफ ने की। अविश्वास प्रस्ताव को विदेशी साजिश बताने पर शहबाज शरीफ भड़क उठे और उन्होंने स्पीकर से गुजारिश की कि वे संविधान के साथ खड़े रहें।

इसके बाद जमकर शोर-शराबा हुआ। भारतीय समयानुसार दोपहर एक बजे कार्यवाही स्थगित कर दी गई लेकिन अभी दोबारा कार्रवाई शुरू नहीं हो सकती है। आज अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग होनी है। अविश्वास प्रस्ताव से पहले इमरान खान ने कानूनी विशेषज्ञों और पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ एक अहम बैठक की।

इससे पहले शुक्रवार को इमरान खान ने एक बार फिर राष्ट्र को संबोधित किया और कहा कि मैं अपनी कौम को कहता हूं कि यदि कोई बाहर से साजिश हो रही है और वो प्लान कर रहे हैं तो आपको अपने आप को बचाना है। यह जो सारा ड्रामा हो रहा है वह सिर्फ एक आदमी को हटाने के लिए हो रहा है। इमरान कहते हैं- मैं अपनी सारी कौम से कहना चाह रहा हूं कि ये आयातित हुकूमत लाने की कोशिश हो रही है, उसके खिलाफ आप सबने रविवार को सड़कों पर उतरना है और प्रदर्शन करके दिखाना है कि आप एक जिंदा कौम हैं। आपको अपने भविष्य की हिफाजत करनी है।

बता दें कि पाकिस्तान में चल रही सियासी उठापटक के वक्त से इमरान खान विदेशी साजिश होने का दावा कर रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर उन्होंने कहा था कि सुप्रीम कोर्ट को कोई भी फैसला सुनानेन से पहले उस दस्तावेज को देखना चाहिए। आखिर क्या है वो दस्तावेज जिसे इमरान खान नेशनल असेंबली में सरकार गिराने की विदेशी साजिश के सबूत के तौर पर रखना चाहे हैं। दरअसल इमरान खान के इस मंसूबे के बाद पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय में भी बगावत की स्थिति बन गई है। विदेश मंत्रालय ने संसद के समक्ष केवल राजनयिक केबल की सामग्री पेश करने के सरकार के कदम पर अपनी आपत्ति व्यक्त की।

पाकिस्तान के समाचार पत्र द एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने अपनी एक रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से बताया कि विदेश कार्यालय में सचमुच एक बगावत की स्थिति बन गई थी। विदेश कार्यालय कई अधिकारियों ने अपने काम का राजनीतिकरण करने के लिए प्रधानमंत्री इमरान खान के हालिया प्रयास पर अपनी गंभीर चिंता व्यक्त की। विदेश कार्यालय ने यह चेतावनी देते हुए कहा कि इस तरह के कदम से न केवल विदेशों में मिशन का काम कमजोर होगा बल्कि राष्ट्रीय हितों को नुकसान भी होगा।

Next Story

विविध