दुनिया

Russia-Ukraine War : 'तीसरा विश्वयुद्ध न्यूक्लियर और विध्वंसक होगा', रूस के विदेश मंत्री का बड़ा बयान

Janjwar Desk
2 March 2022 11:34 AM GMT
Russia-Ukraine War : तीसरा विश्वयुद्ध न्यूक्लियर और विध्वंसक होगा, रूस के विदेश मंत्री का बड़ा बयान
x

Russia-Ukraine War : 'तीसरा विश्वयुद्ध न्यूक्लियर और विध्वंसक होगा', रूस के विदेश मंत्री का बड़ा बयान

Russia-Ukraine War :रूस और यूक्रेन के बीच छिड़ी जंग के बीच रूस के विदेश मंत्री ने परमाणु हमले को लेकर बड़ा बयान दिया है...

Russia-Ukraine War : रूस-यूक्रेन में जारी युद्ध के बीच रूस के ही विदेश मंत्री सर्गेई लवरोव (Sergei Viktorovich Lavrov) ने एक बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि तीसरा विश्व युद्ध (Third World War) न्यूक्लियर और विध्वंसक होगा। बता दें कि यूक्रेन और रूस के बीच युद्ध का आज सातवां दिन है। आज खार्किव को रूसी सेना ने निशाना बनाना शुरू कर दिया है। रूसी सेना के निशाने पर खार्किव स्थित पुलिस मुख्यालय भी रहा है।

उन्होंने यह भी कहा कि रूस पहले से ही पश्चिमी देशों के प्रतिबंधों को लेकर तैयार था, लेकिन कभी यह नहीं सोचा था कि इसकी चपेट में एथलीट और दूसरे खिलाड़ी भी आ जाएंगे।

इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन (US President Joe Biden) ने कहा है कि यूक्रेन युद्ध की कीम रूस को चुकानी होगी। अमेरिकी संसद (US Congress) को संबोधित करते हुए बाइडेन ने कहा कि उनका देश यूक्रेन को हर मदद देगा। वहीं यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की (Volodymyr Zelensky) ने अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन से बात की है। बातचीत में जेलेंस्की ने बताया कि हमने अमेरिकी नेताओं की तरफ से रूस पर लगाए गए प्रतिबंधों और यूक्रेन को सैन्य मदद के बारे में बात की।

वहीं यूक्रेन के नई दिल्ली में राजदूत (Ukrainian Embassador) ने भारतीय छात्र की मौत पर दुख जताते हुए कहा कि मैं नवीन की मौत पर अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं। यूक्रेन के खार्किव में जान गंवाने वाले नवीन की मौत पर कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने उनके परिजनों से बातचीत की औऱ गहरा दुख जताया। नवीन कर्नाटक के हावेरी के रहने वाले थे। रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध में मारे जाने वाले वह पहले भारतीय हैं। भारतीय छात्र की मौत की पुष्टि विदेश मंत्रालय ने की थी।

इससे पहले रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने रूसी परमाणु बचाव बल को तैनाती के आदेश दिए थे। इसके बाद रूस और यूक्रेन के बीच बेलारूस में प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता हुई थी। हालांकि इसके बाद भी ररूस के हमले जारी हैं।

Next Story

विविध