Kaali Film : Mahua Moitra की भाजपा को खुली चुनौती, कहा - 'मैं ऐसे भारत में नहीं रहना चाहती जहां पितृसत्तात्मक ब्राह्मणवादी सोच हावी हो'

Kaali Film : मां काली पर सांसद महुआ मोइत्रा के बयान से टीएमसी ने दूरी बना ली है और इसकी निंदा की है। दूसरी ओर महुआ ने टीएमसी को अनफॉलो कर दिया हे।

Update: 2022-07-07 02:07 GMT

Kaali Poster Controversy : काली विवाद पर फिर भड़कीं महुआ मोइत्रा, बोलीं - देवी-देवताओं की ठेकेदार नहीं BJP 

Kaali Film : पैगंबर मोहम्मद को लेकर जारी विवाद के बीच तृणमूल कांग्रेस की सांसद महुआ मोइत्रा ( TMC MP Magua Moitra ) के मां काली ( Man Kaali ) पर दिए बयान के बाद हंगामा थमने का नाम नहीं ले रहा है। मां काली पर बयान देशभर में कई एफआईआर दर्ज होने के बाद भी महुआ अपने बयान से पीछे हटने को तैयार नहीं हैं। उन्होंने कहा है कि मैं मरते दम तक अपने बयान का बचाव करती रहूंगी। मैं ऐसे भारत में नहीं रहना चाहती, जहां केवल भारतीय जनता पार्टी ( BJP ) का पितृसत्तात्मक ब्राह्मणवादी सोच हावी रहेगा बाकी लोग धर्म के इर्द-गिर्द घूमते रहेंगे।

तृणमूल कांग्रेस की सांसद महुआ मोइत्रा ( TMC MP Magua Moitra ) ने पांच जून को फिल्म काली ( Kalli film ) के पोस्टर को लेकर जारी विवाद पर कहा था कि काली के कई रूप हैं। मेरे लिए काली का मतलब मांस और शराब स्वीकार करने वाली देवी है। उनके इस बयान से टीएमसी ( TMC ) ने दूरी बना ली थी और इसकी निंदा की थी

भाजपा ने की गिरफ्तारी की मांग

टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा ( TMC MP Magua Moitra ) के बयान के बाद भाजपा ( BJp ) ने टीएमसी ( TMC ) सांसद को तत्काल गिरफ्तार करने के लिए शिकायत दर्ज कराई थी। ये शिकायत कोलकाता और महुआ मोइत्रा के संसदीय क्षेत्र कृष्णा नगर में की गई थी। दूसरी तरफ मध्य प्रदेश के भोपाल में भी महुआ मोइत्रा के खिलाफ धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के आरोप में एफआईआर दर्ज की गई है। पश्चिम बंगाल में विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी ने कहा था कि हम बंगाली मां दुर्गा के बाद मां काली की शक्ति के रूप में पूजा करते हैं। ऐसा कोई बंगाली नहीं है, जो काली पूजा में फास्ट न रखता हो। मैं इस पर बयान नहीं देना चाहता कि उनकी पार्टी ने क्या किया, लेकिन अगर बंगाल पुलिस के मन में अशोक स्तंभ के प्रति रत्तीभर भी सम्मान है तो जिस तरह से उन्होंने नूपुर शर्मा के खिलाफ कार्रवाई शुरू की, उनके खिलाफ बंगाल पुलिस कार्रवाई करे। 10 दिन में पुलिस कार्रवाई नहीं करती तो मैं 11वें दिन कोर्ट का रुख करूंगा।

क्या है पूरा मामला

Kaali film : दरअसल, मां काली फिल्म को लेकर विवाद की शुरुआत लीना मणिमेकलई (Leena Manimekalai) नामक फिल्म मेकर के एक पोस्टर शेयर करने के बाद हुई। लीना ने अपनी डॉक्यूमेंट्री फिल्म 'काली' का पोस्टर सोशल मीडिया पर शेयर किया था। इस पोस्टर में मां काली को सिगरेट पीते दिखाया गया। इसके साथ ही उनके एक हाथ में एलजीबीटी समुदाय का सतरंगा झंडा भी था। पोस्टर के सामने आते ही देशभर में इस पर बहस छिडी हुई हैं। वहीं टीएमसी सांसद के बयान ने इस मामले को और तूल दे दिया है। 


Tags:    

Similar News