Top
कश्मीर

डीएसपी देविंदर सिंह सहित छह के खिलाफ एनआइए ने दाखिल किया चार्जशीट

Janjwar Desk
6 July 2020 1:31 PM GMT
डीएसपी देविंदर सिंह सहित छह के खिलाफ एनआइए ने दाखिल किया चार्जशीट
x
एनआइए ने आतंकियोें को मदद पहुंचाने के मामले में डीएसपी देविंदर सिंह के खिलाफ चार्जशीट दायर कर दी है...

जनज्वार, नई दिल्ली। राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने जम्मू कश्मीर पुलिस के डीएसपी देविंदर सिंह और हिजबुल मुजाहिद्दीन के आतंकवादी सैयद नावीद सहित छह लोगों के खिलाफ सोमवार (6th July 2020) को आरोप पत्र दायर किया। देविंदर सिंह पर आरोपियों से साठगांठ रखने और उन्हें मदद पहुंचाने का आरोप है। जिन अन्य लोगों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया गया है उनमें रफी अहमद, वकील इरफान सफी मीर, इरफान मुस्ताक व तनवीर अहमद शामिल हैं।

डीएसपी देविंदर सिंह को पुलिस ने सैयद नवीद, रफी अहमद व इरफान सफी के साथ कश्मीर के कुलगाम से गिरफ्तार किया था। इन्हें जम्मू श्रीनगर हाइवे पर 11 जनवरी 2019 अरेस्ट किया गया था।



इस मामले में नवीद का भाई मुश्ताक पांचवां आरोपी है जिसे 23 जनवरी को अरेस्ट किया गया था। पुलिस ने इस मामले में क्रास एलओसी ट्रेड के पूर्व अध्यक्ष तनवीर अहमद वानी को भी अरेस्ट किया था। उस पर आतंकी नावीद को पैसे देने का आरोप है। वहीं, डीएसपी दविंदर सिंह पर आरोप है कि वह अपनी कार पर आतंकियों को बैठाकर कश्मीर से बाहर निकालने के फिराक में था और इसके एवज में उसे मोटी रकम की पेशकश की गई थी।

जम्मू कश्मीर को शेर ए कश्मीर का मेडल मिला था, जो उससे वापस ले लिया गया था। उसका एसपी के पद पर प्रमोशन होने वाला था, जिसे रोक दिया गया। उसकी गिरफ्तारी के बाद की गई छापेमारी में उसके घर से दो पिस्तौल, एक एके 47 रायफल और गोला बारूद बरामद हुआ था। 57 वर्षीय देविंदर सिंह जम्मू कश्मीर के ़त्राल का रहने वाला है और 1990 में सब इंस्पेक्टर के पद पर जम्मू कश्मीर पुलिस में भर्ती हुआ था।

पिछले महीने 19 तारीख को दिल्ली की एक अदालत से देविंदर सिंह को इस आधार पर जमानत मिल गई थी कि पुलिस तय 90 दिन के समय में उसके खिलाफ आरोप पत्र दाखिल नहीं कर सकी। हालांकि आतंकियों की मदद करते पकड़े जाने की वजह से उसे न्यायिक हिरासत में रखा गया था।

Next Story
Share it